scorecardresearch
 

जानें पहलवान योगेश्वर दत्त के बारें में

भारतीय पहलवान योगेश्वर दत्त ने ओलंपिक खेलों की कुश्ती प्रतियोगिता में फ्रीस्टाइल के 60 किलो वजन वर्ग के रेपेचेज प्ले ऑफ मुकाबले में शनिवार को उत्तर कोरिया के जांग म्यांग री को हराकर कांस्य पदक जीता. जानते हैं उनके बारे में कुछ अहम तथ्य...

भारतीय पहलवान योगेश्वर दत्त ने ओलंपिक खेलों की कुश्ती प्रतियोगिता में फ्रीस्टाइल के 60 किलो वजन वर्ग के रेपेचेज प्ले ऑफ मुकाबले में शनिवार को उत्तर कोरिया के जांग म्यांग री को हराकर कांस्य पदक जीता. जानते हैं उनके बारे में कुछ अहम तथ्य...

2 नवंबर 1982 को हरियाणा के सोनीपत जिले में जन्मे योगेश्वर दत्त इस ओलंपिक से पहले बीजिंग ओलंपिक में भी पदक जीतने से चूक गए थे. योगेश्वर ने आठ साल की उम्र से ही कुश्ती में हाथ आजमाना शुरू कर दिया था. उन्होंने बलराज पहलवान से प्रेरणा ली, जो कि हरियाणा में उन्हीं के गांव से संबंध रखते हैं. योगेश्वर ने अपने कोच रामफाल से कुश्ती की ट्रेनिंग ली और कुश्ती के दांव-पेच सीखे.

अपने कैरियर में योगेश्वर कई मेडल जीत चुके हैं. 2003 कॉमनवेल्थ कुश्ती चैंपियनशिप में उन्होंने गोल्ड मेडल जीता. इसके अलावा दोहा में हुए 15वें एशियन गेम्स में उन्होंने कांस्य पदक जीता. 2006 में विश्व कुश्ती चैंपियनशिप की 60 किलो फ्रीस्टाइल में वो पांचवें स्थान पर रहे थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें