scorecardresearch
 

Commonwealth Games 2022: तैराकी में इतिहास रचने की ओर भारत, आज गोल्ड दिला सकते हैं श्रीहरि नटराजन

इंग्लैंड के बर्मिंघम में खेले जा रहे 22वें कॉमनवेल्थ गेम्स में 21 साल के भारतीय तैराक श्रीहरि नटराज का शानदार प्रदर्शन रहा. उन्होंने पहले दिन मेन्स 100 मीटर बैकस्ट्रोक इवेंट के सेमीफाइनल में 54.55 सेकंड का समय निकालकर फाइनल में जगह बनाई. अब दूसरे दिन यानी शनिवार को श्रीहरि का मेडल के लिए मुकाबला होगा...

X
Swimmer Srihari Nataraj (Twitter)
Swimmer Srihari Nataraj (Twitter)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कॉमनवेल्थ में भारतीय तैराक श्रीहरि फाइनल में
  • शनिवार देर रात को मेडल के लिए होगी जंग

Commonwealth Games 2022: इंग्लैंड के बर्मिंघम में खेले जा रहे 22वें कॉमनवेल्थ गेम्स का आगाज 28 जुलाई से हुआ है. 29 जुलाई यानी शुक्रवार को खिलाड़ी मैदान में उतरे और धमाल कर दिया. इस पहले दिन भारत को मेडल जरूर नहीं मिला, लेकिन खिलाड़ियों ने अपने शानदार प्रदर्शन से काफी उम्मीदें जगाई हैं.

बैडमिंटन टीम ने पाकिस्तान को 5-0 से करारी शिकस्त दी है. जबकि टेबल टेनिस टीम ने भी शानदार आगाज किया है. इसके अलावा तैराकी में श्रीहरि ने भी अपने जौहर दिखाए हैं. उन्होंने सेमीफाइनल में दम दिखाते हुए फाइनल में जगह बनाई है.

बता दें कि इससे पहले कॉमनवेल्थ के तैराकी में भारत एक ही मेडल जीत सका है. 2010 में पैरा तैराकी में प्रशांत कर्माकर ने ब्रॉन्ज मेडल दिलाया था. ऐसे में आज श्रीहरि गोल्ड जीतकर इतिहास रच सकते हैं.

7वें स्थान पर रहते हुए फाइनल में पहुंचे श्रीहरि

21 साल के श्रीहरि नटराज ने मेन्स 100 मीटर बैकस्ट्रोक इवेंट के सेमीफाइनल में शानदार प्रदर्शन किया और 54.55 सेकंड का समय निकालकर चौथे स्थान पर रहे. इस तरह वह अपने इवेंट में ओवरऑल 7वें स्थान पर रहे और इस तरह फाइनल के लिए क्वालीफाई किया. अब मेडल के लिए उनका फाइनल मुकाबला आज (30 जुलाई) देर रात 1.35 बजे होगा. 

बेंगलुरु के रहने वाले श्रीहरि ने सबसे पहले अपने हीट में 54.68 सेकंड का समय निकालकर सेमीफाइनल में जगह बनाई थी. वह अपने उस इवेंट में तीसरे नंबर पर रहे थे, जबकि ओवरऑल पांचवें सबसे तेज तैराक बने थे. 

कुशाग्र और साजन के पास अब भी मेडल का मौका

इस बार कॉमनवेल्थ गेम्स में श्रीहरि के अलावा साजन प्रकाश और कुशाग्र रावत भी हिस्सा ले रहे थे. कुशाग्र ने पहली बार कॉमनवेल्थ में भाग लिया, मगर यह दोनों ही सेमीफाइनल में जगह नहीं बना सके. डेब्यू कर रहे कुशाग्र मेन्स की 400 मीटर फ्रीस्टाइल में 3:57.45 सेकंड का समय निकालकर अपनी हीट में आखिरी स्थान पर रहे थे. जबकि साजन ने मेन्स 50 मीटर बटरफ्लाय में 25.01 सेकंड का समय निकाला और वह हीट में 8वें स्थान पर रहे थे.

हालांकि कुशाग्र और साजन के पास अब भी मेडल जीतने का मौका है. दरअसल, अब यह दोनों ही तैराक दूसरे इवेंट में हिस्सा लेंगे. साजन मेन्स की 100 और 200 मीटर बटरफ्लाय इवेंट में जौहर दिखाएंगे. जबकि कुशाग्र मेन्स की 1500 मीटर फ्रीस्टाइल और 200 मीटर फ्रीस्टाइल में उतरेंगे.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें