scorecardresearch
 

Neeraj Chopra Gold Medal: बारिश झेली, गिर पड़े..फिर भी नहीं डगमगाए नीरज चोपड़ा..ऐसे जीत लिया गोल्ड

नीरज चोपड़ा ने फिनलैंड में आयोजित कुओर्ताने गेम्स में जैवलिन थ्रो का गोल्ड मेडल जीत लिया है. नीरज चोपडा़ का टोक्यो ओलंपिक के बाद यह दूसरा गोल्ड मेडल है.

X
नीरज चोपड़ा (@Getty) नीरज चोपड़ा (@Getty)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • नीरज चोपड़ा ने कुओर्ताने गेम्स में जीता गोल्ड
  • थ्रो के दौरान चोटिल होने से बाल-बाल बचे नीरज

भारत के स्टार जैवलिन थ्रोअर नीरज चोपड़ा ने फिनलैंड में आयोजित कुओर्ताने गेम्स में जैवलिन थ्रो का गोल्ड मेडल जीत लिया है. नीरज इस गेम्स में मेडल जीतने वाले पहले भारतीय एथलीट हैं. उन्होंने शनिवार को 86.69 मीटर तक जैवलिन फेंक कर यह उपलब्धि हासिल की. टोक्यो ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीतने के बाद नीरज चोपड़ा महज दूसरी बार किसी टूर्नामेंट में हिस्सा ले रहे थे.

नीरज चोपड़ा अपना बेस्ट प्रदर्शन तो नहीं कर पाए, लेकिन वह ट्रिनिडाड एंड टोबैगो के केशरन वाल्कॉट और ग्रेनाडा के वर्ल्ड चैंपियन एंडरसन पीटर्स को पछाड़ते हुए पीला तमगा जीतन में कामयाब रहे. वैसे, दूसरे स्थान पर रहने वाले वाल्कॉट भी नीरज चोपड़ा से बहुत पीछे नहीं थे और उन्होंने 86.64 मीटर की दूरी के साथ दूसरे स्थान पर रहे जबकि पीटर्स 84.75 मीटर के साथ तीसरे पायदान पर थे.

नीरज चोपड़ा ने अपने पहले प्रयास में 86.69 मीटर दूर तक जैवलिन फेंका, वहीं बाकी दोनों थ्रो फाउल करार दिए गए. तीसरे थ्रो के दौरान नीरज चोपड़ा चोटिल होने से भी बच गए क्योंकि जब वह थ्रो फेंक रहे थे और अचानक उनका पैर फिसल गया. लेकिन नीरज चोपड़ा फिर से उठ खड़े हुए. बाद में उन्होंने रिस्क ना लेते हुए बाकी दो थ्रो नहीं लिए.

हाल ही में तोड़ा था अपना नेशनल रिकॉर्ड

इससे पहले नीरज चोपड़ा ने मंगलवार को फिनलैंड में ही आयोजित पावो नुरमी गेम्स में 89.30 मीटर जैवलिन फेंकते हुए अपना नेशनल रिकॉर्ड तोड़ दिया था. हालांकि तब वह इस शानदार प्रदर्शन के बावजूद सिल्वर मेडल ही जीत पाए थे. उस प्रतियाोगिता का गोल्ड मेडल फिनलैंड के ही ओलिवर हेलेंडर ने अपने नाम किया था. हेलेंडर 89.33 मीटर तक जैवलिन फेंकने में कामयाब रहे थे. नीरज चोपड़ा अब 30 जून को डायमंड लीग के स्टाकहोम लेग में भाग लेने जा रहे हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें