scorecardresearch
 

कोरोना काल में क्रिकेट के लिए क्यों सुरक्षित है UAE? ये हैं बड़ी वजहें

UAE में मैच कराना इस वजह से भी सुरक्षित होता है क्योंकि यहां पर ग्राउंड की आपस में दूरी बहुत ज्यादा नहीं है. यहां पर तीन अहम स्टेडियम हैं.

UAE का क्रिकेट स्टेडियम (फाइल फोटो) UAE का क्रिकेट स्टेडियम (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कोरोना काल में भी क्रिकेट के लिए सुरक्षित है UAE
  • IPL-13 का सफल आयोजन कर चुका है UAE

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 14वें सीजन को कोरोना महामारी के कारण टाल दिया गया है. कई टीमों में कोरोना के केस सामने आने के बाद बीसीसीआई ने ये फैसला लिया. आईपीएल को टालना कोई हैरान करने वाला फैसला नहीं है. इस सीजन की शुरुआत ऐसे वक्त ही हुई जब देश में कोरोना ने कहर बरपा रखा है. आईपीएल में कोरोना की एंट्री ना हो, इसके लिए बीसीसीआई ने बायो बबल का सहारा लिया. 

बायो बबल भी उस वक्त तक कारगर था जब लीग के शुरुआती मैच मुंबई और चेन्नई में खेले जा रहे थे. एक बार जब टीमों ने दूसरे वेन्यू पर जाने के लिए यात्रा की तो कोरोना की एंट्री होने की भी आशंका बढ़ गई. 

आईपीएल में कोरोना के प्रवेश होने का मतलब है कि भारत में बायो बबल सुरक्षित नहीं था. ऑस्ट्रेलिया के स्पिनर एडम जाम्पा ने आईपीएल से हटने के लिए भारत में बायो बबल का कमजोर होना ही बताया था. उन्होंने कहा, 'भारत में बायो-बबल छोड़ने के बाद उतना सुरक्षित महसूस नहीं होता, जितना यूएई में आईपीएल 2020 के दौरान लगता था. बेहतर होता कि आईपीएल 2021 भी यूएई में ही खेला जाता.'

ऐसे में ये जानना जरूरी है कि कोरोना काल में UAE ने आईपीएल के पिछले सीजन का सफल आयोजन कैसे किया था. कोरोना काल में क्रिकेट के आयोजन के लिए ये मुल्क इतना सुरक्षित क्यों है. ऐसी क्या वजह है कि इस साल नवंबर में भारत में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप की मेजबानी भी UAE को देने की मांग उठने लगी है. 

UAE में काबू में है कोरोना

एक ओर जहां कोरोना ने भारत में तबाही मचाई हुई है वहीं UAE में इस महामारी के मामले नियंत्रण में हैं. इस मुल्क में कोरोना के कुल 5,26,000 केस हैं. इसमें से 5,06,000 लोग ठीक हो चुके हैं. UAE में कोरोना से 1,596 लोगों की जान जा चुकी है. 

स्टेडियम की आपस में दूरी कम

UAE में मैच कराना इस वजह से भी सुरक्षित होता है क्योंकि यहां पर ग्राउंड की आपस में दूरी बहुत ज्यादा नहीं है. यहां पर तीन अहम स्टेडियम हैं. शेख जायद क्रिकेट स्टेडियम, दुबई इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम और शारजाह क्रिकेट स्टेडियम. ये स्टेडियम अबू धाबी, दुबई और शारजाह में स्थित हैं और तीनों अच्छी तरह से जुड़े हुए हैं.  

क्योंकि इन तीनों स्टेडियम की दूरी आपस में ज्यादा नहीं है तो ऐसे में यात्रा करने का समय भी बचता है और जैव सुरक्षित वातावरण बनाना भी सुविधाजनक होता है. UAE टीमों और खिलाड़ियों को जैव सुरक्षित वातावरण देने में सक्षम है, ये उसने आईपीएल के पिछले सीजन में साबित भी किया है. 

सितंबर-नवंबर में पीक पर होता है क्रिकेट का सीजन

UAE में सितंबर से नंवबर के बीच में क्रिकेट का सीजन अपने पीक पर होता है. आईपीएल का पिछला सीजन भी इसी दौरान हुआ था. यही नहीं, UAE ने पाकिस्तान के ज्यादा अंतरराष्ट्रीय मैच अक्टूबर से नवंबर के बीच में होस्ट किए हैं.

IPL का सफल आयोजन कर चुका है UAE

आईपीएल का आयोजन दो बार UAE में किया जा चुका है. 2020 से पहले 2014 के सीजन के पहले चरण के मैच UAE में खेले गए थे. भारत में लोकसभा चुनाव के कारण UAE ने आईपीएल-2014 के पहले चरण की मेजबानी की थी और काफी शानदार ढंग से उसने होस्ट किया था. सब कुछ योजना के मुताबिक हुआ था. आईपीएल के पहले चरण का सफल आयोजन कराना बीसीसीआई और एमिरेट्स क्रिकेट बोर्ड के लिए बड़ी सफलता रही थी. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें