scorecardresearch
 

EXCLUSIVE: अश्विन बोले- कोहली हर क्रिकेटर के आदर्श, टीम के लिए 'विराट' दीवार

भारत के स्टार बल्लेबाज विराट कोहली का गुनगान पूरी दुनिया कर रही है. ऐसे में भला टीम इंडिया के स्टार स्पिन गेंदबाज आर.अश्विन भला कैसे पीछे रहे सकते हैं. अश्विन ने इंडिया टुडे से खास बातचीत में कहा कि उनके पास रन मशीन विराट की तारीफ के लिए शब्द नहीं हैं.कोहली हर किसी के रोल मॉडल है.

X
विराट कोहली और आर अश्विन विराट कोहली और आर अश्विन

भारत के स्टार बल्लेबाज विराट कोहली का गुनगान पूरी दुनिया कर रही है. ऐसे में भला टीम इंडिया के स्टार स्पिन गेंदबाज आर.अश्विन भला कैसे पीछे रहे सकते हैं. अश्विन ने इंडिया टुडे से खास बातचीत में कहा कि उनके पास रन मशीन विराट की तारीफ के लिए शब्द नहीं हैं. कोहली हर किसी के रोल मॉडल है. दुनिया के नंबर स्पिन गेंदबाज अश्विन ने कहा कि ये साल विराट कोहली के लिए बेहतरीन रहा है. उन्होंने क्रिकेट के हर फॉर्मेट में खूब रन बनाए हैं. विराट कोहली ने इस सीजन में शतक और तीन हाफ सेंचुरी लगाई. इसके अलावा उन्होंने टेस्ट मैच में न्यूजीलैंड के खिलाफ एक दोहरा शतक भी लगाया.

विराट बेहद खास अंदाज में बाउंड्री लगाते हैं: अश्विन
अश्विन ने देश हो या फिर विदेश हर जगह अपनी फिरकी का जादू दिखाया है और वो चार बार लगातार मैन ऑफ द मैच सीरीज भी रहे. अश्विन ने कहा कि कोहली जब लक्ष्य का पीछा करते हुए रन बनाते हैं, तो उनकी बल्लेबाजी देखते ही बनती है. मोहाली वनडे में जब रॉस टेलर ने कोहली का कैच छोड़ा, तो उसके कुछ देर बाद ही वो अपनी हाफ सेंचुरी लगा चुके थे. इससे ये पता चलता है कि वो कितनी तेजी से लक्ष्य का पीछा करते हुए रन बनाते हैं. विराट बेहद ही शानदार तरीके से बाउंड्री लगाते हैं और उनकी रनिंग बिटविन का द विकेट भी बेहद शानदार है. जो उन्हें दूसरे बल्लेबाजों से अलग करती है.

'विराट जैसा कोई नहीं'
अश्विन ने इंडिया टुडे से खास बातचीत में कहा कि भारत में कुछ मैदान ऐसे हैं. जिस पर खेलने में उन्हें बल्लेबाजी करने में महारत हासिल है. उन्हें अच्छी तरह से मालूम है कि किस ऐंगल से कहां शॉट खेलना है और कहां से दो रन दौड़ने हैं. टी-ट्वेंटी वर्ल्ड कप में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उन्होंने अकेले ही टीम इंडिया को जीत दिलाई थी. उस मुकाबले ऐसा करना किसी भी बल्लेबाज के लिए आसान नहीं था. अश्विन ने कहा कि विराट ऐसे खिलाड़ी हैं, जो भारतीय क्रिकेट को एक नई ऊंचाईयों तक लेकर जाएगें.

'विराट की तारीफ के लिए 'विशेषणों' की कमी'
इंडिया टुडे से खास बातचीत में टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने कहा कि विराट की तारीफों के लिए उनके पास विशेषणों की कमी है. कुछ ऐसा कहना है उनके साथी खिलाड़ी आर अश्विन का. अश्विन ने कहा की कोहली की जितनी तारीफ की जाए उतनी कम है और पास भी कोहली की तारीफ के लिए शब्द नहीं हैं. अगर उन्हें कोई नाम देना ही है तो उन्हें 'मॉडल' कहा जा सकता है. क्योंकि वो हर किसी के बड़े रोल मॉडल हैं.

कोहली की आक्रमकता में आई कमी: अश्विन
आमतौर पर विराट कोहली को लोग गुस्से वाला और बेहद आक्रमक व्यक्ति कहते हैं. लेकिन ऐसा नहीं है वो दूसरी जनरेशन के हैं. पिछले कुछ समय से उन्होंने अपने गुस्से और आक्रमकता पर कंट्रोल किया है. कोहली ने जब अपना 26वां शतक लगया तब उन्होंने इसका जश्न आराम से मनाया और वो जब 150 पर पहुंचे तब भी उन्होंने कोई जश्न नहीं मनाया. लेकिन उनके चेहरे पर इस बात की खुशी थी कि उन्होंने टीम इंडिया को आसानी जीत दिला दी है.

 'कोहली का फिटनेस लेवल कमाल का है'
अश्विन ने कहा कि कोहली की फिटनेस दुनिया भर में मशहूर है और वो युवा खिलाड़ियों को अपनी फिटनेस को लेकर उत्साहित करते रहते हैं. वो काफी बैलेंस डाइट लेते हैं. बिना चीनी के ब्लैक कॉफी, फ्रूट जूस अपनी इसी फिटनेस की वजह से उनके खेल में खूब निखार आया है.

'रन चेज करने में उनका कोई जवाब नहीं'
एक समय था जब रन चेज करने के मामले में हर कोई ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज माइकल बीवन की बात करता था. लेकिन अब विराट कोहली की चर्चा हर जगह होती है. अश्विन ने कहा कि मौजूदा दौर में 400 रन आसानी से हासिल हो रहे हैं. क्रिकेट पूरी तरह से बदल चुकी है. पहले नंबर तीन का बल्लेबाज से उम्मीद की जाती थी को वो 40 ओवर तक बल्लेबाजी करने. लेकिन अपनी फिटनेस की वजह से कोहली 47 ओवर तक खेलते रहते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें