scorecardresearch
 

अश्विन की फिरकी का चला जादू, सीरीज में झटके 27 विकेट, बने 'मैन ऑफ द सीरीज'

टीम इंडिया के स्टार स्पिन गेंदबाज आर अश्विन का जलवा लगातार जारी है. देश हो या विदेश अश्विन जहां भी खेलते हैं, उनकी फिरकी के आगे बड़े-बड़े बल्लेबाज घूमने लगते हैं. न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में भी कुछ ऐसा ही हुआ. एक भी कीवी बल्लेबाज अश्विन को सही तरीके से नहीं खेल सके.

आर अश्विन आर अश्विन

टीम इंडिया के स्टार स्पिन गेंदबाज आर अश्विन का जलवा लगातार जारी है. देश हो या विदेश अश्विन जहां भी खेलते हैं, उनकी फिरकी के आगे बड़े-बड़े बल्लेबाज घूमने लगते हैं. न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में भी कुछ ऐसा ही हुआ. एक भी कीवी बल्लेबाज अश्विन को सही तरीके से नहीं खेल सके. उन्हें मैन ऑफ द मैच और मैन ऑफ द सीरीज चुना गया.

न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज में झटके 27 विकेट
आर अश्विन का कहर कीवी बल्लेबाजों पर खूब बरपा उन्होंने तीन टेस्ट मैच की छह पारियों में 3.27 की इकॉनमी के साथ 27 विकेट हासिल किए. इंदौर टेस्ट मैच की दोनों पारियों में उन्होंने 13 विकेट अपने नाम किए. अश्विन अबतक 39 टेस्ट मैचों में 21 बार पांच विकेट झटक चुके हैं. अनिल कुंबले ने 132 मैच खेलते हुए 35 बार पांच या पांच से ज्यादा विकेट लिए हैं. हरभजन सिंह ने 103 मैच खेलते हुए 25 बार पांच विकेट लिए हैं, जबकि कपिल देव ने 131 मैच खेलते हुए 23 बार पांच विकेट झटके हैं.

 

हर तरफ है अश्विन का जलवा
आर अश्विन ने अपने करियर की शुरुआत एक सलामी बल्लेबाज के तौर पर थी. लेकिन उन्होंने पहचान लेग स्पिनर के तौर पर बनाई. आज उनकी गिनती दुनिया के बेहतरीन स्पिन गेंदबाजों में होती है. वो टीम इंडिया के सबसे बड़े मैच विनर गेंदबाज हैं. इसके अलावा बल्ले से भी वो कमाल दिखाने में पीछे नहीं रहते हैं.

करियर की पहली सीरीज में मिला था मैन ऑफ द मैच
6 नवंबर 2011 को दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान पर वेस्टइंडीज के खिलाफ अश्विन को मौका दिया गया. उसके बाद उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा. उन्होंने उस मुकाबले में पांच विकेट झटके थे और भारतीय टीम की जीत में अहम रोल निभाया था. अश्विन को हरभजन सिंह की जगह टीम में मौका दिया गया था.

दस विकेट लेने में दूसरे नंबर हैं अश्विन
आर अश्विन टेस्ट मैच में दस विकेट लेने के मामले में दूसरे नंबर पर हैं. उनसे पहले टीम इंडिया कोच और पूर्व भारतीय टेस्ट कप्तान अनिल कुंबले का नंबर आता है. कुंबले आठ बार दस विकेट ले चुके हैं और अश्विन ने पांच बार दस विकेट झटके हैं. इसके अलावा हरभजन सिंह भी पांच बार ये कारनामा कर चुके हैं. अश्विन ही एकमात्र ऐसे गेंदबाज हैं जिन्होंने तीन से ज्यादा बार दस विकेट लेने में कामयाब हुए हैं. मौजूदा समय में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर क्रिकेट खेलने वाला कोई भी ऐसा खिलाड़ी नहीं है जिसने तीन से ज्यादा बार दस विकेट लिया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें