scorecardresearch
 

मैच हो या न हो, मैदान पर पानी डालने की जरूरत होती है: PM मोदी

आईपीएल नौ के दौरान महाराष्ट्र में आईपीएल मैचों के आयोजन को लेकर विरोध हुआ था, क्योंकि राज्य में सूखे की स्थिति है और अंतत: बंबई उच्च न्यायालय के आदेश के बाद मैचों को राज्य के बाहर स्थानांतरित किया गया.

X
पीएम मोदी पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सूखाग्रस्त क्षेत्रों में आईपीएल मैचों के आयोजन पर मची हायतौबा पर सवाल उठाते हुए कहा कि मैच हो या नहीं हो, क्रिकेट के मैदानों पर रोज पानी देने की जरूरत होती है.

मोदी शनिवार को एक कार्यक्रम में बोल रहे थे, जहां उन्होंने बीस शहरों में स्मार्ट सिटी मिशन के तहत परियोजनाएं लॉन्च की.

मोदी ने कहा, ‘आज पानी का संकट है. कभी-कभी मीडिया के हमारे लोग चीजों को काफी तोड़-मरोड़कर पेश करते हैं और हम क्रिकेट तक नहीं खेल सकते. जहां भी स्टेडियम हैं, क्रिकेट मैच हो या नहीं मैदान पर 365 दिन (पूरे साल) पानी डालने की जरूरत होती है.’

HC ने रद्द किए मैच
आईपीएल नौ के दौरान महाराष्ट्र में आईपीएल मैचों के आयोजन को लेकर विरोध हुआ था, क्योंकि राज्य में सूखे की स्थिति है और अंतत: बंबई उच्च न्यायालय के आदेश के बाद मैचों को राज्य के बाहर स्थानांतरित किया गया.

महाराष्ट्र को हुआ नुकसान
पीएम ने कहा, ‘लेकिन देश को लगा कि मैच नहीं हुए इसलिए पानी डालना भी बंद हो गया. देश को ऐसा लगा.’ उन्होंने कहा, ‘मैदानों में 365 दिन पानी देने की जरूरत होती है. यही कारण है कि हरियाली रहती है. अन्यथा दो साल बाद भी स्टेडियम में कोई मैच नहीं होगा. मुझे नहीं पता कि वे ये नई धारणा कहां से लाए.’ मोदी ने कहा कि मैच स्थानांतरित करने के कारण महाराष्ट्र को नुकसान (राजस्व का) हुआ.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें