scorecardresearch
 

धोनी अगर अच्छा नहीं खेलेंगे तो उनका विकल्प तलाशेंगेः चीफ सिलेक्टर

उन्होंने कहा कि धोनी अगर प्रदर्शन नहीं करते हैं तो ही विकल्प तलाशेंगे. वहीं युवराज सिंह को आराम देने की स्थिति को स्पष्ट करने के बाद प्रसाद से जब धोनी के बाबत पूछा गया तो उन्होंने उत्तर दिया, 'मैं ईमानदारी से कहूंगा. चर्चाएं हर किसी के बारे में होती हैं.'

चीफ सिलेक्टर एमएसके प्रसाद चीफ सिलेक्टर एमएसके प्रसाद

चीफ सिलेक्टर एमएसके प्रसाद ने कहा कि पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के भविष्य पर चयन बैठक में चर्चा हुई थी. उन्होंने कहा कि धोनी अगर प्रदर्शन नहीं करते हैं तो ही विकल्प तलाशेंगे. वहीं युवराज सिंह को आराम देने की स्थिति को स्पष्ट करने के बाद प्रसाद से जब धोनी के बाबत पूछा गया तो उन्होंने उत्तर दिया, 'मैं ईमानदारी से कहूंगा. चर्चाएं हर किसी के बारे में होती हैं.'

उन्होंने कहा कि ऐसा नहीं है कि महेंद्र सिंह धोनी के बारे में ही चर्चा हुई. जब हम टीम चुनते हैं तो हम संयोजन की बात करते हैं. हम हर किसी के बारे में चर्चा करते हैं. धोनी के भविष्य के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा कि इसकी भविष्यवाणी करना मुश्किल है. पर जब तब वह टीम के प्रदर्शन कर रहा है, इसमें कोई परेशानी नहीं होनी चाहिए.

भारतीय टीम करे अच्छा प्रर्दशन

उन्होंने कहा, 'हम यह नहीं कहते कि यह चयनएक स्वत: होने वाली चीज है लेकिन हम देखेंगे. हम सभी चाहते हैं कि भारतीय टीम अच्छा प्रदर्शन करें. अगर वह अच्छा प्रदर्शन कर रहा है तो क्यों नहीं उसे ही चुना जाए. अगर वह नहीं होगा तो हमें उसका विकल्पों को तलाशना होगा.'

दिया आंद्रे अगासी का उदाहरण

उन्होंने आंद्रे अगासी का उदाहरण देते हुए कहा कि कुछ खिलाड़ी कैसे उम्र के साथ बेहतर होते जाते हैं. उन्होंने कहा, मैं आंद्रे अगासी की आत्मकथा ओपन पढ़ रहा था, उनकी असल जिदंगी 30 साल की उम्र के बाद ही शुरू हुई. उस समय तक उन्होंने दो या तीन ट्राफी जी ली थी. वह मीडिया के दबाव में रहे जिसमें उनके सवाल रहे कि आप कब संन्यास लोगे, पर वह 36 साल की उम्र तक खेले . बता दें कि कई सारे ग्रैंडस्लैम खिताब उनकी झोली में है.

 

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें