scorecardresearch
 

जाट आंदोलनः सहवाग और युवराज ने कहा जोश का इस्तेमाल देश की भलाई के लिए करें

क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग और युवराज सिंह ने देश में उग्र हो रहे जाट आरक्षण पर चिंता जाहिर की है. दोनों ने ट्विटर पर प्रदर्शनकारियों से अपील की है कि वो हिंसा छोड़ दें और संवैधानिक तरीके से अपनी मांग रखें.

वीरेंद्र सहवाग ने की हिंसा रोकने की अपील वीरेंद्र सहवाग ने की हिंसा रोकने की अपील

देशभर में चल रहे जाट आरक्षण को लेकर जगह-जगह हिंसा की खबरें आ रही हैं, जिससे न सिर्फ नेता और आम जनता परेशान हैं बल्कि क्रिकेट जगत के लोगों को भी फिक्र सताने लगी है. क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग और युवराज सिंह ने प्रदर्शनकारियों ने हिंसा न करने और संवैधानिक तरीके से अपनी बात रखने की अपील की है.

वीरेंद्र सहवाग ने ट्विटर पर कहा कि अलग-अलग क्षेत्रों के लोगों ने देश को मान-सम्मान दिलाया है और किसी भी तरह के बल का इस्तेमाल देश के भले के लिए होना चाहिए. उन्होंने ट्वीट किया, 'सभी भाइयों से मेरी विनती है कि हिंसा त्याग दो और जिसकी जो भी मांग हो वो संवैधानिक तरीके से रखो. हम रक्षक हैं, हिंसक नहीं.'

उन्होंने दूसरे ट्वीट में कहा, 'देश की सेना, खेल जगत और न जाने कितनी चीजों में देश का नाम ऊंचा किया है. हमारा जोश देश के भले लिए इस्तेमाल होना चाहिए.'

युवराज सिंह ने भी वीरेंद्र की बातों को ही ट्विटर पर दोहराते हुए हिंसा को खत्म करने की अपील की है.

आरक्षण की मांग को लेकर जाट आंदोलन का आज आठवां दिन है. 19 तारीख से आंदोलन को उग्र बना दिया गया. देशभर मेंम ट्रेनें, बसें और रास्ते रोके गए हैं. हजारों गाड़ियों, स्कूलों, भवनों आदि में आगजनी की गई है. इसमें अब तक 10 लोगों की मौत भी हो चुकी है .

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें