scorecardresearch
 

पहली बार इंदौर में खेले जा रहे टेस्ट में विराट कोहली ने जड़ा शतक, रहाणे भी जमे, पहले दिन भारत के 267 रन

इंदौर टेस्ट मैच के पहले दिन भारत ने अपनी पहली पारी में तीन विकेट के नुकसान पर 267 रन बना लिए हैं. कप्तान विराट कोहली (103) ने अपने टेस्ट करियर का 13वां शतक पूरा किया और अजिंक्या रहाणे (79) के स्कोर पर खेल रहे हैं.

X
इंदौर टेस्ट मैच का पहला दिन
इंदौर टेस्ट मैच का पहला दिन

इंदौर टेस्ट मैच के पहले दिन भारत ने अपनी पहली पारी में तीन विकेट के नुकसान पर 267 रन बनाए. पहले दिन का खेल खत्म होने तक कप्तान विराट कोहली (103) अजिंक्या रहाणे (79) के स्कोर पर नॉटआउट लौटे. विराट कोहली ने अपने टेस्ट क्रिकेट का 13वां शतक जड़ा और कप्तान के तौर पर भारत में ये उनका पहला शतक भी है.

विराट और रहाणे की साझेदारी
टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली और अजिंक्या रहाणे ने बेहतरीन बल्लेबाजी की. दोनों ने भारतीय टीम को खराब स्थिति से निकाला. विराट और रहाणे के बीच चौथे विकेट के लिए नाबाद 167 रन की महत्वपूर्ण साझेदारी हुई. इसके अलावा कोहली और पुजारा के बीच 40 रन की साझेदारी हुई थी.

पहले दिन भारत को लगे तीन झटके
सलामी बल्लेबाज मुरली विजय (10) रन बनाकर आउट हुए. दो साल बाद टेस्ट टीम में वापसी कर रहे गौतम गंभीर (29) के स्कोर पर चलते बने. गंभीर ने शुरुआत में शानदार बल्लेबाजी की और दो गेंदों पर लगातार दो छक्के भी जड़े. लेकिन वो अपनी इस शानदार पारी को एक बड़ी पारी में नहीं बदल सके. तीसरे आउट होने वाले बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा रहे. वो 41 के स्कोर पर क्लीन बोल्ड हुए. न्यूजीलैंड की तरफ से जीतन पटेल, ट्रेंट बोल्ट और मिशेल सैंटनर ने एक-एक विकेट झटका.

भारत ने टॉस जीता
कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया. सीरीज में कोहली ने लगातार तीसरी बार टॉस जीता. कोलकाता टेस्ट में जीत दर्ज करके सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त हासिल कर चुकी टीम इंडिया आखिरी टेस्ट मैच को जीतकर अपने घर पर एक और ‘क्लीन स्वीप’ की कोशिश करेगी. ये पहला मौका है जब इंदौर में टेस्ट मैच खेला जा रहा है.

भारतीय टीम ने किए दो बदलाव
इस मुकाबले में भारतीय टीम दो बदलावों के साथ मैदान पर उतरी है. सलामी बल्लेबाज शिखर धवन की जगह गौतम गंभीर को मौका दिया गया है, जबकि तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार की जगह उमेश यादव को टीम में शामिल किए गए हैं.

न्यूजीलैंड का होगा सूपड़ा साफ
विजय रथ पर सवार टीम इंडिया की निगाहें इंदौर में जीत दर्ज कर सीरीज में क्लीन स्वीप करने पर टिकी हैं. कानपुर और कोलकाता में ऐतिहासिक मुकाबलों में जीत दर्ज करने के बाद टीम इंडिया के हौसले सातवें आसामान पर हैं. ऐसे में कीवी टीम की राह किसी भी लिहाज से आसान नहीं होने वाली है. न्यूजीलैंड पर इस मुकाबलों को जीतने का दबाव रहेगा. क्योंकि वो सीरीज में अबतक एक भी जीत दर्ज नहीं कर पाई है.

केन विलियम्सन की हुई वापसी
इस मुकाबले में न्यूजीलैंड के लिए एक अच्छी खबर है. कप्तान केन विलियम्सन आखिरी टेस्ट मैच के लिए उतरेंगे. वो कोलकाता टेस्ट मैच में चोट की वजह से नहीं खेल पाए थे. विलियम्सन की वापसी के कीवी टीम के हौसले बुलंद हैं. पहले टेस्ट मैच में उन्होंने अपनी टीम के लिए बेहतरीन पारी खेली थी.

भारत का पलड़ा है भारी
तीसरे और आखिरी टेस्ट मैच में भी भारतीय टीम का पलड़ा भारी माना जा रहा है. न्यूजीलैंड के सामने भारतीय स्पिन गेंदबाजों से निपटने की चुनौती होगी. कोलकाता टेस्ट मैच में अश्विन और जडेजा की जोड़ी ने कीवी टीम को पूरी तरह से बैकफुट पर धकेले रखा था. वहीं दूसरी तरफ न्यूजीलैंड टीम का भरोसा अपने तेज गेंदबाजी आक्रमण पर है, जिसकी अगुवाई ट्रेंट बोल्ट और मैट हैनरी करेंगे. हेनरी को कोलकाता टेस्ट में शानदार गेंदबाजी की थी और टीम इंडिया को खूब परेशान किया था.

टीमें इस प्रकार हैं :
भारत : विराट कोहली (कप्तान), गौतम गंभीर, मुरली विजय, रोहित शर्मा, अजिंक्य रहाणे, चेतेश्वर पुजारा, ऋद्धिमान साहा, रवींद्र जडेजा, मोहम्मद शमी, उमेश यादव और आर अश्विन.

न्यूजीलैंड : केन विलियम्सन (कप्तान), रॉस टेलर, मार्टिन गप्टिल, मैट हैनरी, टॉम लाथम, ल्यूक रॉन्ची, मिशेल सैंटनर, जे नीशाम, बीजे वाटलिंग, ट्रेंट बोल्ट और जीतन पटेल.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें