scorecardresearch
 

IND vs SA, 3rd Test: 30 साल, 7 कप्तान... अजहर से कोहली तक, अफ्रीकी धरती पर फिर हाथ नहीं आई सीरीज 

भारतीय टीम आठवीं बार टेस्ट सीरीज के लिए साउथ अफ्रीका गई थी, लेकिन एक भी मौके पर सीरीज नहीं जीत पाई. इस दौरान सात भारतीय कप्तानों ने टीम इंडिया की बागडोर संभाली.

Virat Kohli (Photo: PTI) Virat Kohli (Photo: PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • भारत को केपटाउन टेस्ट में मिली हार 
  • टेस्ट सीरीज जीतने का सपना टूटा

IND vs SA, 3rd Test: भारतीय टीम का साउथ अफ्रीका में टेस्ट सीरीज जीतने का सपना चकनाचूर हो गया है. केपटाउन टेस्ट मैच के चौथे दिन भारत को 7 विकेट से हार झेलनी पड़ी. भारत ने साउथ अफ्रीका को जीत के लिए 211 रनों का चुनौतीपूर्ण लक्ष्य मिला था, लेकिन मेजबान बल्लेबाजों ने भारतीय गेंदबाजों की एक ना चलने दी. इसके साथ ही टीम इंडिया ने अफ्रीकी धरती पर मौजूदा सीरीज 1-2 से गंवाई. दोनों टीमों के बीच अब 19 जनवरी से तीन मैचों की वनडे सीरीज खेली जाएगी.

भारतीय टीम आठवीं बार टेस्ट सीरीज के लिए साउथ अफ्रीका गई थी, लेकिन एक भी मौके पर टेस्ट सीरीज नहीं जीत पाई. इस दौरान सात भारतीय कप्तानों ने टीम की बागडोर संभाली. भारत का सबसे अच्छा प्रदर्शन 2010-11 के दौरे पर रहा था. तब धोनी की कप्तानी में भारतीय टीम ने सीरीज 1-1 से ड्रॉ करवाई थी.

आइए नजर डालते हैं भारत के अब तक के दौरों पर-

साल 1992-93 में मोहम्मद अजहरुद्दीन के कप्तानी में भारतीय टीम साउथ अफ्रीका के दौरे पर गई थी. उस दौरे पर चार मैचों की सीरीज में भारत को 0-1  से हार का सामना करना पड़ा था. डरबन, जोहानिसबर्ग और केपटाउन में आयोजित टेस्ट मुकाबले ड्रॉ पर छूटे थे. वहीं, पोर्ट एलिजाबेथ टेस्ट मैच में भारत को नौ विकेट से हार झेलनी पड़ी थी.

फिर 1996-97 में सचिन तेंदुलकर के नेतृत्व में भारतीय टीम साउथ अफ्रीका गई. तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में भारत को 0-2 से हार का सामना करना पड़ा था. डरबन और केपटाउन टेस्ट मैचों में भारत को भारी भरकम हार का सामना करना पड़ा था. वहीं, जोहानिसबर्ग टेस्ट मैच ड्रॉ पर छूटा.

2001-02 में सौरव गांगुली की कप्तानी में भारत ने साउथ अफ्रीका का दौरा किया. उस दौरान दो मैचों की टेस्ट सीरीज में भारत को 0-1 से हार झेलनी पड़ी. ब्लोमफोंटेन में हुए पहले मुकाबले में साउथ अफ्रीका को नौ विकेट से जीत मिली थी. वहीं, पोर्ट एलिजाबेथ टेस्ट मैच ड्रॉ रहा.

इसके बाद 2006-07 में राहुल द्रविड़ की कप्तानी में टीम इंडिया साउथ अफ्रीकी दौरे पर गई. भारतीय टीम ने शानदार शुरुआत करते हुए जोहानिसबर्ग टेस्ट मैच में मेजबान टीम को 123 रनों से हरा दिया था. साउथ अफ्रीकी जमीं पर यह भारतीय टीम की पहली टेस्ट जीत रही. हालांकि भारतीय टीम डरबन और केपटाउन में हुए बाकी दो मुकाबले हार कर सीरीज को 1-2 से गंवा बैठी.

साल 2010-11 में भारतीय टीम एमएस धोनी की कप्तानी में साउथ अफ्रीका टूर पर गई. भारत ने शानदार प्रदर्शन करते हुए तीन मैचों की टेस्ट सीरीज को 1-1 से ड्रॉ करवाया था. सेंचुरियन टेस्ट में करारी हार के बाद भारत ने डरबन में हुए दूसरे मुकाबले को 87 रनों से जीत लिया था. वहीं, केपटाउन में हुआ तीसरा एवं आखिरी टेस्ट मैच ड्रॉ रहा था.

2013-14 में एक बार फिर एमएस धोनी की कप्तानी में भारत अफ्रीकी देश पहुंची. अबकी बार धोनी ब्रिगेड को 0-1 से हार झेलनी पड़ी. जोहानिसबर्ग में खेले गए पहले टेस्ट मैच बेनतीजा रहा था. इसके बाद डरबन टेस्ट मैच में भारत को दस विकेट से करारी हार का सामना करना पड़ा था.

2017-18 में  विराट कोहली की कप्तानी में भारत ने साउथ अफ्रीका का दौरा किया, लेकिन टेस्ट सीरीज का नतीजा टीम के पक्ष में नहीं रहा. केपटाउन और सेंचुरियन में हुए मुकाबले में विराट ब्रिगेड को हार झेलनी पड़ी थी. वहीं, जोहानिसबर्ग टेस्ट मैच को भारत ने 63 रनों से जीतकर आत्म-सम्मान बचा लिया, हांलाकि सीरीज 1-2 से गंवाई.

अबकी बार भारतीय टीम कोहली की कप्तानी में बड़ी उम्मीदों के साथ साउथ अफ्रीका गई. सेंचुरियन टेस्ट मैच में 113 रनों से जीत दर्ज का भारत ने शानदार आगाज किया. लेकिन जोहानिसबर्ग और केपटाउन टेस्ट मैच में मिली हार ने टीम इंडिया का सपना एक बार फिर से तोड़ दिया.

भारत का साउथ अफ्रीका दौरा (टेस्ट सीरीज) -

1992/93: 0-1 से हार, मोहम्मद अजहरुद्दीन (कप्तान)

1996/97: 0-2 से हार, सचिन तेंदुलकर (कप्तान)

2001/02: 0-1 से हार, सौरव गांगुली (कप्तान)

2006/07: 1-2 से हार राहुल द्रविड़ (कप्तान)

2010/11: 1-1 से ड्रॉ, एमएस धोनी (कप्तान)

2013/14: 0-1 से हार, एमएस धोनी (कप्तान)

2017/18: 1-2 से हार, विराट कोहली (कप्तान)

2021/22: 1-2 से हार, KL राहुल और विराट कोहली (कप्तान)




 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×