scorecardresearch
 

रवि शास्त्री कैसे लौटेंगे स्वदेश..? उड़ान भरने के लिए कराना होगा ये टेस्ट

भारत के मुख्य कोच रवि शास्त्री के साथ गेंदबाजी कोच भरत अरुण और फील्डिंग कोच आर श्रीधर को कोविड-19 संक्रमण से उबरने के पश्चात ‘फिट टू फ्लाई’ (उड़ान भरने के लिए फिट) टेस्ट से गुजरना होगा.

Ravi Shastri (Getty) Ravi Shastri (Getty)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • शास्त्री के साथ भरत अरुण और आर श्रीधर को ‘फिट टू फ्लाई’ टेस्ट से गुजरना होगा
  • तीनों ने स्वास्थ्य प्रोटोकॉल के अनुसार 10 दिन का पृथकवास पूरा कर लिया है

भारत के मुख्य कोच रवि शास्त्री के साथ गेंदबाजी कोच भरत अरुण और फील्डिंग कोच आर श्रीधर को कोविड-19 संक्रमण से उबरने के पश्चात ‘फिट टू फ्लाई’ (उड़ान भरने के लिए फिट) टेस्ट से गुजरना होगा. इन तीनों ने ब्रिटेन के स्वास्थ्य प्रोटोकॉल के अनुसार 10 दिन का पृथकवास पूरा कर लिया है. लेकिन स्वदेश रवाना होने से पूर्व उन्हें आरटी-पीसीआर की निगेटिव रिपोर्ट के अलावा ‘फिट टू फ्लाई’ परीक्षण में भी खरा उतरना होगा.

भारतीय खेमे में कोविड-19 संक्रमण के मामले आने के कारण पिछले हफ्ते मैनचेस्टर में इंग्लैंड के खिलाफ पांचवां टेस्ट रद्द करना पड़ा था. भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने पीटीआई से कहा, ‘शास्त्री, अरुण और श्रीधर कोविड-19 से उबरने के बाद शारीरिक रूप से स्वस्थ हैं. वे पृथकवास भी पूरा कर चुके हैं.’

उन्होंने कहा, ‘हालांकि स्वास्थ्य प्रोटोकॉल के अनुसार उड़ान भरने के लिए फिट होना सुनिश्चित करने के लिए उनका सीटी स्कोर 38 से ज्यादा होना चाहिए, तभी वे उड़ान भर पाएंगे. हम उनके अगले दो दिन में उड़ान भरने की उम्मीद कर रहे हैं, अगर उनका सीटी स्कोर सही रहता है तो.’

सीटी (सीटी स्कैन) स्कोर से एक संक्रमित व्यक्ति में वायरस के असर का पता चलता है और उसके फेफड़ों में कितना संक्रमण हुआ था. अगर सीटी स्कोर ज्यादा है तो इससे पता चलता है कि व्यक्ति उबर गया है और माना जाता है कि लंबी फ्लाइट के लिए व्यक्ति का सीटी स्कोर 40 होना चाहिए.

तीनों भारतीयों कोचों को इस समय कोई लक्षण नहीं है और वे पूरी तरह से फिट हैं, लेकिन प्रमाण पत्र हासिल करने के बाद ही वे स्वदेश लौटने के लिए उड़ान भर सकते हैं.

शास्त्री ओवल में चौथे टेस्ट के तीसरे दिन पॉजिटिव आए थे. अरुण और श्रीधर को उनके करीबी संपर्क के चलते पृथकवास में रहना पड़ा. हालांकि बाद में ये दोनों भी पॉजिटिव आए थे. बुधवार को इन तीनों ने 10 दिन का पृथकवास पूरा कर लिया था.

जूनियर फिजियो योगेश परमार के भी पॉजिटिव आने के बाद कप्तान विराट कोहली की अगुआई में भारतीय खिलाड़ियों ने ओल्ड ट्रैफर्ड पर पांचवें टेस्ट में खेलने से इनकार कर दिया जिससे इसे रद्द करना पड़ा. परमार भारतीय खिलाड़ियों के लिए एकमात्र फिजियो थे, क्योंकि मुख्य फिजियो नितिन पटेल को भी कोचिंग स्टाफ के करीबी संपर्क के चलते पृथकवास में जाना पड़ा था.

माना जा रहा है कि शास्त्री अपनी किताब के लॉन्च के दौरान ही संक्रमित हुए थे, क्योंकि इस कार्यक्रम में करीब 150 अतिथि मौजूद थे और सभी ने मास्क नहीं लगाया हुआ था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×