scorecardresearch
 

टीम इंडिया की 'दीवार' पुजारा का 33वां जन्मदिन, Twitter पर जमकर मिल रहीं बधाइयां

टीम इंडिया की नई दीवार कहे जाने वाले टेस्ट के महारथी चेतेश्वर पुजारा आज यानी 25 जनवरी को अपना 33वां जन्मदिन मना रहे हैं. पुजारा ने अपनी भरोसेमंद बल्लेबाजी की बदौलत कई बार भारतीय टीम को मुश्किल परिस्थितियों से निकाला है.

Pujara with His Daughter Aditi Pujara with His Daughter Aditi
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पुजारा आज अपना 33वां जन्मदिन मना रहे हैं
  • ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज में जमकर लड़े
  • पुजारा ने ऑस्ट्रेलियाई पेस अटैक का हमला झेला

राहुल द्रविड़ के बाद टीम इंडिया की नई दीवार कहे जाने वाले टेस्ट के महारथी चेतेश्वर पुजारा आज यानी 25 जनवरी को अपना 33वां जन्मदिन मना रहे हैं. पुजारा ने अपनी भरोसेमंद बल्लेबाजी की बदौलत कई बार भारतीय टीम को मुश्किल परिस्थितियों से निकाला है. हाल ही में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चार मैचों की टेस्ट सीरीज में चेतेश्वर पुजारा लड़ाके की तरह जमकर लड़े.

ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर जमकर लड़े पुजारा

पुजारा ने सिडनी और ब्रिस्बेन में अपने शरीर पर ऑस्ट्रेलियाई पेस अटैक का हमला झेला. सिडनी टेस्ट में पुजारा ने 50 और 77 रनों की पारियां खेलीं, जबकि ब्रिस्बेन के निर्णायक टेस्ट मैच में उन्होंने दूसरी पारी में 56 रनों की पारी खेलकर टीम की सीरीज जीत में अहम योगदान दिया.

देखें: आजतक LIVE TV

चेतेश्वर पुजारा टीम इंडिया की दीवार बने रहे. पुजारा ने अपनी छाती पर कमिंस, स्टार्क और हेजलवुड की गेंदें खाई, लेकिन फिर भी क्रीज पर डटे रहे. चेतेश्वर पुजारा ने एक छोर संभाले रखा और विकेट नहीं गिरने दिए. इसका फायदा शुभमन गिल और ऋषभ पंत ने उठाया और खुलकर बैटिंग की. पुजारा के जन्मदिन पर उन्हें हर जगह से बधाइयां मिल रही हैं.

पिता और चाचा भी खेल चुके हैं क्रिकेट

25 जनवरी 1988 को गुजरात के राजकोट में जन्में चेतेश्वर पुजारा के टैलेंट को पहचानते हुए उनके पिता अरविंद पुजारा और मां रीमा ने उन्हें बचपन से ही क्रिकेट खेलने के लिए मोटीवेट किया. आपको बता दें कि पुजारा के पिता अरविंद पुजारा सौराष्ट्र के लिए रणजी खेल चुके हैं.

चेतेश्वर के चाचा बिपिन पुजारा भी सौराष्ट्र के लिए रणजी खेल चुके हैं. पुजारा को क्रिकेट की शुरुआती कोचिंग उनके पिता से ही मिली थी. पुजारा जब 17 साल के थे तब उनकी मां का निधन हो गया था. मजबूत बल्लेबाजी तकनीक वाले चेतेश्वर पुजारा ने साल 2010 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बेंगलुरु में अपना टेस्ट डेब्यू किया था.

द्रविड़ के बाद बने टीम इंडिया की दीवार

साल 2012 में राहुल द्रविड़ के इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास के बाद पुजारा को टेस्ट में नंबर 3 पर बल्लेबाजी का जिम्मा मिला. उसी साल जब न्यूजीलैंड की टीम टेस्ट मैच खेलने भारत आई तो पुजारा ने अपनी बल्लेबाजी का लोहा मनवाते हुए अपना पहला टेस्ट शतक जड़ दिया. न्यूजीलैंड के खिलाफ हैदराबाद टेस्ट में पुजारा ने 159 रनों की शानदार पारी खेली.

13 फरवरी 2013 को पुजारा ने अपनी दोस्त पूजा पाबरी से शादी की थी. वाइफ पूजा का लेडी लक पुजारा के साथ ऐसे जुड़ा कि उन्होंने फिर कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा. पुजारा और पूजा की एक बेटी भी है, जिसका नाम उन्होंने अदिति रखा है. पुजारा अब तक 81 टेस्ट मैचों में 47.74 की औसत से 6111 रन बना चुके हैं. उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ अहमदाबाद में अपने टेस्ट करियर की बेस्ट 206 रनों पारी खेली थी. पुजारा के नाम टेस्ट क्रिकेट में 18 शतक और 28 अर्धशतक हैं. टेस्ट करियर में पुजारा ने 3 दोहरे शतक जड़े हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें