scorecardresearch
 

कुंडली में सूर्य की मजबूती दिलाएगी सम्मान...

सूर्यदेव को ग्रहों में बहुत ही उच्च सम्मान मिला हुआ है और अगर आपको उनका आशीर्वाद प्राप्त हो जाए तो आप इस जग में खूब नाम कमा सकते हैं...

सूर्यदेव इस संसार में जीवन के सृजनकर्ता है सूर्यदेव इस संसार में जीवन के सृजनकर्ता है

सूर्यदेव की वजह से इस धरती पर पेड़-पौधे हम आप हैं. सूर्य देव की वजह से ही ये धरती जीवजंतुओं के रहने लायक है. ऐसे में कुंडली पर भी सूर्य का असर बहुत गहरा होता है. सूर्य की मजबूती से कुंडली के जातक को तेज प्राप्त होता है. सूर्य की कमजोर किसी को भी राजा सक रंक बना सकती है.

आइए जानें, सूर्यदेव के बारे में कुछ रहस्यमय बातें...

जीवन पर सूर्यदेव का असर
सारे संसार की ऊर्जा और प्रकाश का कारण सूर्य ही हैं. राज्य, औषधि, पिता और खाने-पीने की चीजों का कारक हैं. सूर्य मजबूत होने पर मनुष्य यशस्वी और सम्पन्न होता है और कमजोर होने पर व्यक्ति दुर्बल, रोगी और निर्धन होता है. ह्रदय रोग, आंखों की गंभीर समस्या और रोग के पीछे सूर्य ही होता है. सूर्य के कारण व्यक्ति को राजकीय सेवा भी हासिल होती है.

उपाय जिनसे सूर्य होंगे मजबूत
सूर्यदेव का आशीर्वाद आपको जीवन में हर वो सुख दिला सकता है जिसकी आप सिर्फ कल्पना ही किया करते थे. लेकिन उसके लिए जरूरी है कि आप सूर्यदेव की उपासना करें और कुंडली में उनकी स्थिति को मजबूत करने के उपाय करें.
- सूर्य को मजबूत करने का सबसे आसान तरीका सूर्य को अर्घ्य देना है. इसके अलावा सूर्य के मंत्र जाप भी काफी प्रभावशाली होता है.
- मन्त्रों के अलावा सूर्य के नामों की स्तुति भी विशेष कारगर होती है.
- सूर्य की स्तुति में इनके इक्कीस नामों का उल्लेख किया गया है.
- इन नामों को हर रोज सुबह पढ़ने से सूर्य मजबूत होते हैं.
- व्यक्ति को सूर्य संबंधी समस्याओं से छुटकारा मिलता है.

सूर्य के चमत्कारी 21 नाम
सूर्यदेव के कुछ ऐसे चमत्कारी नाम हैं जिनको अगर जप लिया जाए तो ज्योतिषी कहते हैं कि इसके अदभुत परिणाम मिलते हैं. चलिए हम आपको उन 21 नामों के बारे में बताते हैं.
1. विकर्तन
2. विवस्वान
3. मार्तण्ड
4. भास्कर
5. रवि
6. लोकप्रकाशक
7. श्रीमान
8. लोकचक्षु
9. गृहेश्वर
10. लोकसाक्षी
11. त्रिलोकेश
12. कर्ता
13. हर्ता
14. तमिस्त्रहा
15. तपन
16. तापन
17. शुचि
18. सप्ताश्ववाहन
19. गभस्तिहस्त
20. ब्रह्मा
21. सर्वदेवनमस्कृत

सूर्य के नामों का जपने के तरीका
- सुबह नहाने के बाद सूर्य को जल अर्पित करें.
- इसके बाद वहीँ पर खड़े होकर सूर्य के इक्कीस नाम पढ़ें.
- फिर अपनी प्रार्थना कहें. आपको सूर्य की कृपा हासिल होगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें