scorecardresearch
 

भाई दूज पर भाई ही नहीं, इनके माथे पर भी लगा सकती हैं टीका

भाई दूज के दिन भाई के माथे पर तिलक लगाने की प्रथा के बारे में तो सब जानते हैं, लेकिन क्या आपको मालूम है इस त्योहार में कई अन्य लोग भी शामिल हो सकते हैं.

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

भाई दूज का त्योहार आज देश के कई हिस्सों में मनाया जा रहा है. इस दिन बहनें अपने भाई का तिलक करती हैं. उसका स्वागत सत्कार करती हैं और उनके लम्बी उम्र की दुआएं मांगती हैं. भाई दूज के दिन भाई के माथे पर तिलक लगाने की प्रथा के बारे में तो सब जानते हैं, लेकिन क्या आपको मालूम है कि इस त्योहार में कई अन्य लोग भी शामिल हो सकते हैं.

भाई दूज का पवित्र त्योहार स्नेह और सम्मान का पर्व है. इसलिए घर के जिस भी सदस्य के प्रति आपका स्नेह ज्यादा है उनके माथे पर भी आप चंदन का टीका लगा सकती हैं. जैसे कि कई परिवारों में भाई के साथ-साथ भतीजे के माथे पर भी टीका करने का रिवाज होता है.

भाई और भतीजे के अलावा महिलाएं घर के सबसे छोटे सदस्यों को भी टीका लगा सकती हैं. आप चाहें तो भाई के किसी प्रिय मित्र को भी भाई दूज पर तिलक लगा सकती हैं.

इस दिन कई जगहों पर तो भगवान गणेश के माथे पर भी तिलक लगाया जाता है. ऐसा करके महिलाएं उनसे सुख-समृद्धि का वरदान पाती हैं. भगवान गणेश को तिलक लगाने के बाद भाई की तरह ही नारियल और मिष्ठान अर्पित किए जाते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें