scorecardresearch
 

Vastu Tips: घर की उत्तर पूर्वी दिशा में न रखें ये सामान, रुकता है धन का आगमन!

वास्तु (Vastu Shastra) के अनुसार घर की उत्तर पूर्वी दिशा कुबेर (Kuber) का स्थान होती है. कई बार इस दिशा में स्टोर रूम बना दिया जाता है या फिर भारी मशीनरी एवं जूते-चप्पल या गंदी चीजें रख दी जाती हैं. ऐसे में घर की आर्थिक स्थिति पर बुरा प्रभाव पड़ने के साथ धन के आगमन में दिक्कतें आने लगती हैं.

X
Vastu Tips: वास्तु टिप्स Vastu Tips: वास्तु टिप्स

वास्तु शास्त्र (Vastu Shastra) के नियमों का ध्यान न रखने पर घर में वास्तु दोष उत्पन्न होते हैं. जिसकी वजह से घर के लोगों को कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है. आर्थिक उन्नति प्राप्त करना हर व्यक्ति के जीवन का अहम हिस्सा है. यदि घर की उत्तर पूर्वी दिशा दूषित होती है तो धन के आगमन में दिक्कत होने लगती है. 

दरअसल, घर की उत्तर पूर्वी दिशा कुबेर (Kuber) का स्थान होती है. कई बार इस दिशा में स्टोर रूम बना दिया जाता है या फिर भारी मशीनरी एवं जूते-चप्पल या गंदी चीजें रख दी जाती हैं. ऐसे में घर की आर्थिक स्थिति पर बुरा प्रभाव पड़ने के साथ धन के आगमन में दिक्कतें आने लगती हैं. इसलिए उत्तर पूर्वी दिशा में ऐसी कोई भी वस्तु रखने से बचना चाहिए. 

देखें: आजतक LIVE TV


जबकि हल्के आइटम एवं पूजा-पाठ से जुड़ी चीजें रखना बेहतर होता है. वास्तु के अनुसार उत्तर पूर्वी दिशा में कुबेर की चौकी रखना शुभ माना गया है. इस दिशा में तिजोरी भी रखी जा सकती है. इसके अलावा धन के आगमन के लिए इस दिशा को खाली रखना चाहिए.  

वास्तु के नियम के अनुसार उत्तर पूर्वी दिशा में पूजा घर बनाना चाहिए. उत्तर पूर्वी दिशा में कई लोग सीढ़ियां बनवा देते हैं. जबकि इससे घर में दोष होता है.  वास्तु के अनुसार, उत्तर पूर्वी दिशा में कई बार बिल्डिंग की बड़ी परछाई पड़ना भी एक मुश्किल का कारण बन जाता है. इसलिए उत्तर पूर्वी दिशा को जितना स्वच्छ रखा जाए उतना बेहतर होता है.

वास्तु के मुताबिक घर की उत्तर पूर्वी दिशा में किसी भी प्रकार की गलत ऊर्जा आपके धन के आगमन को रोक सकती है. इस दिशा में टॉयलेट का निर्माण भी नहीं करना चाहिए. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें