scorecardresearch
 

2022 में इन 6 राशियों के जीवन में उथल-पुथल मचाएंगे राहु देव, नौकरी-पैसे को लेकर होंगे परेशान

Rahu transit in Aries 2022: ज्योतिष शास्त्र में राहु को एक प्रभावी ग्रह माना गया है. राहु ऐसा ग्रह है जो कई तरह के अशुभ योग का कारण बनता है. इससे बनने वाले अशुभ योग जीवन में भारी उथल-पुथल लाते हैं. हालांकि राहु दोनों तरह के फल प्रदान करता है. ये शुभ फल भी देता है, लेकिन अशुभ फल भी प्रदान करता है. लेकिन जब राहु की अशुभ दृष्टि पड़ती है तो जॉब, करियर, शिक्षा, व्यापार आदि में बहुत संघर्षों के बाद ही सफलता मिलती है.

6 राशियों के जीवन में उथल-पुथल मचाएंगे राहु देव 6 राशियों के जीवन में उथल-पुथल मचाएंगे राहु देव
स्टोरी हाइलाइट्स
  • राहु की अशुभ दृष्टि से बढ़ जाती हैं मुश्किलें
  • एक राशि में डेढ़ वर्ष तक रहते हैं राहु देव

2022 Rahu Goachar:  नए साल 2022 में राहु का वृषभ राशि से मेष राशि में गोचर 6 राशियों के जीवन में भारी उथल-पुथल मचाएगा. ज्योतिष में राहु को शनि के बाद सबसे धीमी गति से चलने वाला ग्रह माना जाता है. साथ ही राहु के प्रभावों की तुलना भी शनि के प्रभावों से की जाती है. राहु एक राशि में डेढ़ वर्ष तक रहते हैं, इसके बाद दूसरी राशि में प्रवेश कर जाते हैं. नए साल में राहु 12 अप्रैल को सुबह 10 बजकर 36 मिनट पर राशि परिवर्तन करेंगे.

मेष (Aries): मेष राशि के जातकों के लिए अप्रैल माह में राहु उनकी लग्न राशि के दूसरे भाव से गोचर करेगा. इस दौरान आपके पारिवारिक जीवन और पेशेवर जीवन में उथल-पुथल रहने की आशंका है. इस समय में आप अपनी नौकरी और धन गंवाने को लेकर असुरक्षा महसूस कर सकते हैं. आपको सलाह दी जाती है कि इस वर्ष के शुरुआती तीन महीनों के दौरान निजी संपत्ति में किसी भी प्रकार का निवेश न करें, चूंकि यह सौदा आपके लिए नकारात्मक साबित हो सकता है. इस दौरान आपकी वाणी कठोर और कटु हो सकती है, जिससे आपके प्रियजन आहत भी हो सकते हैं.

वृषभ (Taurus): वृषभ राशि के जातकों के लिए राहु लग्न राशि में स्थित रहेगा. इस दौरान आप खुद को खोया हुआ और भ्रमित महसूस कर सकते हैं. आपको सलाह दी जाती है कि इस वर्ष की शुरुआत में कोई भी जरूरी निर्णय न लें क्योंकि आप सभी पहलुओं का सही मूल्यांकन करने में सक्षम नहीं हो सकते हैं. इस दौरान आप भरोसा करने के मामले में भी परेशानियों का सामना कर सकते हैं. इस अवधि में आपका झुकाव कुछ नया और अनोखा करने की ओर रह सकता है. अप्रैल माह में राहु आपके बारहवें भाव यानी व्यय के भाव में गोचर करेगा. इस दौरान आपके खर्चों में वृद्धि हो सकती है और हो सकता है कि इस बीच आपको कोई घाटा भी सहना पड़े.

कर्क (Cancer): कर्क राशि के जातकों के लिए राहु आपके दसवें भाव यानी कर्म भाव में गोचर करेगा, नौकरीपेशा लोगों को थोड़ा सावधान रहने की ज़रूरत है चूंकि इस अवधि में आपको अपने कार्यस्थल पर राजनीतिक भार झेलना पड़ सकता है. यदि आप अपनी नौकरी बदलने की योजना बना रहे हैं तो इस दौरान आपको अपनी नौकरी बदलने के लिए और अपना कार्य बदलने के लिए अच्छे मौके मिल सकते हैं. फ्रेशर्स को इस दौरान नौकरी खोजने के लिए थोड़ी ज़्यादा कोशिश और संघर्ष करना पड़ सकता है. सरकारी कर्मचारियों को इस अवधि में स्थानांतरण का आदेश मिलने की आशंका है.

कन्या (Virgo): कन्या राशि के जातकों के लिए राहु इस वर्ष की शुरुआत में आपके नौवें भाव से गोचर करेगा. इस अवधि में आपको भटकाव और भ्रम का सामना करना पड़ सकता है. साथ ही इस दौरान आपको अपने वरिष्ठ कर्मचारियों से, उच्च अधिकारी और अपने पिता से किसी प्रकार का टकराव भी हो सकता है. इसके बाद राहु आपके आठवें भाव में गोचर करेगा. इस अवधि के दौरान आपको स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है और किसी प्रकार की चोट लगने की भी आशंका है. व्यक्तिगत जीवन में या पेशेवर जीवन में अपने आपको साबित करने के लिए आपको काफ़ी कठिन परिश्रम करना पड़ सकता है. 

वृश्चिक (Scorpio): वृश्चिक राशि के जातकों के लिए इस वर्ष की शुरुआत में राहु आपके सातवें भाव यानी जीवनसाथी के भाव में स्थित रहेगा. इस दौरान आपका जीवनसाथी या तो शादी के रिश्ते से बाहर जा सकता है या फिर किसी तीसरे व्यक्ति की ओर आकर्षित हो सकता है. आपको अपनी सार्वजनिक छवि को लेकर सतर्क रहने की जरूरत है.  कोई भी बड़ा निर्णय लेते समय आप ख़ुद को भ्रमित महसूस कर सकते हैं. आपको सलाह दी जाती है कि इस अवधि के दौरान अपने प्रियजनों के साथ पहले चर्चा करें और फिर कोई बड़ा निर्णय लें.

धनु (Sagittarius): धनु राशि के जातकों के लिए इस वर्ष की शुरुआत में राहु आपके छठे भाव से गोचर करेगा. इस अवधि के दौरान आपके जीवन में कुछ अदालती मामले या कानूनी मुद्दे आ सकते हैं, जो जातक अतीत में इन मुद्दों का सामना कर रहे थे, उन्हें इससे राहत मिल सकती है, क्योंकि इस अवधि में फ़ैसला उनके पक्ष आ सकता है और समस्या हल हो सकती है. अप्रैल माह के मध्य में राहु आपके पांचवें भाव में गोचर करेगा. यह समय छात्रों के लिए अनुकूल साबित नहीं हो सकता है क्योंकि मानसिक दबाव के कारण आप अपनी पढ़ाई में बहुत अधिक भटकाव का सामना कर सकते हैं. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×