scorecardresearch
 
पर्व-त्यौहार

Chaitra Navratri 2021: माता रानी को करना है प्रसन्न तो चैत्र नवरात्रि में जरूर करें ये 6 काम

चैत्र नवरात्रि
  • 1/7

चैत्र और शारदीय नवरात्रि पूरे देश में बहुत श्रद्धा भाव से मनाई जाती है. इस साल चैत्र नवरात्रि 13 अप्रैल को शुरू हो रही है और इसका समापन 21 अप्रैल को होगा. नवरात्रि के दौरान पूरे नौ दिनों तक हर तरफ भक्तिमय माहौल रहता है. आइए जानते हैं कि ज्योतिष के अनुसार इन नौ दिनों में किन चीजों का पालन करने से मां दुर्गा प्रसन्न होती हैं.
 

मंदिर या पूजा स्थल की सफाई
  • 2/7

मंदिर या पूजा स्थल की सफाई- नवरात्रि शुरू होने से एक दिन पहले घर के मंदिर या पूजा स्थल की अच्छे से सफाई करें. माना जाता है कि नवरात्रि के पहले दिन मां दुर्गा का घर में आगमन होता है. इसलिए मां के आगमन से पहले पूरे घर की अच्छे से सफाई कर लें.
 

स्वास्तिक बनाएं
  • 3/7

स्वास्तिक बनाएं- मां के आगमन से पहले घर के मुख्य द्वार पर हल्दी या रोली से स्वास्तिक बनाएं. हल्दी से बना स्वास्तिक गुरु ग्रह को जबकि रोली से बना स्वास्तिक चिन्ह शुक्र को शुद्ध करता है और जीवन में सकारात्मक लाता है.
 

मां की चौकी पर लाल कपड़ा बिछाएं
  • 4/7

मां की चौकी पर लाल कपड़ा बिछाएं- नवरात्रि में हमेशा मां की प्रतिमा को चंदन या चांदी की चौकी पर स्थापित करना चाहिए. इस चौकी पर लाल कपड़ा जरूर बिछाएं. लाल रंग को सौभाग्य का प्रतीक माना जाता है.

उत्तर-पूर्व दिशा में कलश स्थापित करें
  • 5/7

उत्तर-पूर्व दिशा में कलश स्थापित करें- कलश स्थापना में दिशा का ध्यान जरूर रखें. नवरात्रि का कलश हमेशा उत्तर पूर्व दिशा में स्थापित करना चाहिए. कलश को सुपारी, सिक्का और जल डालकर भरना चाहिए. आप सोने, चांदी या पीतल के अलावा मिट्टी के कलश का भी इस्तेमाल कर सकते हैं.
 

कलश पर अशोक के पत्ते रखें
  • 6/7

कलश पर अशोक के पत्ते रखें- कलश पर अशोक के पत्ते जरूर रखें. ये पत्ते शुभ गिनतियों में होने चाहिए जैसे 9, 11, 21 आदि. अशोक को शोक को हरने वाला पौधा कहा जाता है. इसलिए पूजा-पाठ में इसका प्रयोग करने से जीवन में आने वाली विपदाएं दूर होती हैं. कलश पर कलावा बांधकर जटादार नारियल रखें.
 

अखंड दीपक जलाएं
  • 7/7

अखंड दीपक जलाएं- चैत्र नवरात्रि के दौरान अपने पूजा स्थान पर अखंड दीपक जलाएं. अगर आप अखंड दीपक नहीं जला पा रहे हैं तो पूरी नवरात्रि सुबह और शाम को दीपक जरूर जलाएं. इससे मां दुर्गा की कृपा आप पर बनी रहेगी.