scorecardresearch
 

चीन-पाक के मंसूबे होंगे धवस्त, विशेष में समझें राफेल की ताकत

चीन-पाक के मंसूबे होंगे धवस्त, विशेष में समझें राफेल की ताकत

चीन और पाकिस्तान की धड़कनें तेज हो गई हैं. अब से महज 6 दिनों बाद भारत के इन दोनों दुश्मनों का काल आने वाला है. उसकी हुंकार से सरहद पार हाहाकार मच जाएगा. बिना सरहद पार किए भारत अपने दोनों दुश्मनों पर अचूक वार कर पाएगा. चीन से झड़प के बाद भारत को सबसे ज्यादा जरूरत इसी राफेल विमान की थी जो 29 जुलाई को भारत आ रहा है. इसकी संहारक क्षमता इतनी है कि अभी से चीन-पाकिस्तान का हार्ट फेल होने लगा है. विशेष में देखें कैसे राफेल बढ़ाएगा भारतीय वायुसेना की ताकत.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें