scorecardresearch
 

देखिए, सूखे-प्यासे लातूर की ग्राउंड जीरो रिपोर्ट

देखिए, सूखे-प्यासे लातूर की ग्राउंड जीरो रिपोर्ट

भूकंप की मार तो लातूर के सीने पर एक झटके में पड़ी थी. लेकिन प्यासे गले का दर्द तो बीते कई सालों से लातूर की नियति बन गई है. यहां बीते चार साल से लगातार सूखा पड़ रहा है. लातूर शहर में पीने का पानी लेने के लिए महिलाओं को कई किलोमीटर तक जाना पड़ता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें