scorecardresearch
 

Maharashtra के चिपलून में प्रलय, 80 फीसदी शहर पानी में डूबा, लोग घरों में फंसे

Maharashtra के चिपलून में प्रलय, 80 फीसदी शहर पानी में डूबा, लोग घरों में फंसे

महाराष्ट्र में कई जगहों पर बारिश ने आम जनजीवन को पटरी से उतार दिया है. रत्नागिरी के चिपलून, कोल्हापुर, सातारा, अकोला, यवतमाल, हिंगोली में भयंकर बारिश हुई है. लगातार बारिश के बाद चिपलून बारिश में डूब गया है. बारिश ने चिपलून में ऐसा तांडव किया है कि लोग अपने घर में भी बस बाढ़ में नहीं बहने की कोशिश कर रहे हैं. लहरें घरों की पहली मंजिल छूने पर अमादा हैं. दूर-दूर तक पानी के सिवा कुछ नजर नहीं आ रहा है. एनडीआरएफ की कई टीमों को प्रभावित इलाकों में तैनात कर दिया गया है. चिपलून को दक्षिण कोंकण का बिजनैस हब माना जाता है. रत्नागिरी जिले में आने वाले चिपलून से सटे खेड़ और मंगोन जैसे इलाके भी बाढ़ से डूबे हैं. करीब 27 गांवों का संपर्क बाहर से टूट गया है. मौसम विभाग का अनुमान है कि अगले 48 घंटे भी बारिश हो सकती है. देखें ये एपिसोड.

Heavy rain has battered Maharashtra and its nearby cities. There have been torrential rains in Chiplun, Kolhapur, Satara, Akola, Yavatmal, and Hingoli of Ratnagiri for the last few days. After incessant rain, Chiplun has been submerged in floods. The rain has created such an orgy in Chiplun that people are trying to be at home. The rainwater has entered the ground level of the homes. Several teams of NDRF have been deployed in the affected areas. Chiplun is considered to be the business hub of South Konkan. Areas like Khed and Mangon adjoining Chiplun in Ratnagiri district are also submerged in floods. About 27 villages have lost contact from outer areas. The Meteorological Department has forecast that it may rain for the next 48 hours as well. Watch this episode.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें