scorecardresearch
 

हाड़ गलाने वाली ठंड में कैसे तैनात हैं जवान, देखें LAC के सर्द इलाकों से ग्राउंड रिपोर्ट

हाड़ गलाने वाली ठंड में कैसे तैनात हैं जवान, देखें LAC के सर्द इलाकों से ग्राउंड रिपोर्ट

LAC यानी वो सरहद किसी लकीर यो कांटेदार तारों से परिभाषित नहीं होती, वो लकीर जो दो देशों की सोच और समझौते से परिभाषित रहती है. LAC यानी वो इलाका जहां पर चुनौतियां बता कर नहीं आती हैं, कब कौनसी मुश्किल आपके सामने आजाएगी ये कोई नहीं कह सकता. शून्य से 50 डिग्री नीचे का तापमान हो या फिर बर्फीले तूफान भारतीय जवान एलएसी के पास निगरानी चौकियों पर मुस्तैद रहेते हैं. जवान लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल के पास पैट्रोलिंग ड्यूटी पर मुश्किल हालातों में भी तैनात रहते हैं. लगभग 18 फीट की ऊंचाई पर स्थित उत्तरी इलाकों में भीषण ठंड है, लेकिन सुरक्षा में कोई चूक ना हो जाए इसका ध्यान हमारी सेना हर दम रख रही है. आजतक से श्वेता सिंह ने यहां जाकर जवानों से की खास बातचीत. देखें LAC के सर्द इलाकों से ग्राउंड रिपोर्ट.

Temperatures at Line of Actual Control (LAC) have already dipped below minus-5 degrees Celsius in the upper reaches, and the Indian Army is still procuring items for the thousands of troops deployed. The army soldiers are leaving no stone unturned in giving security to the nation. There are many massive challenges that the Indian Army faces in eastern Ladakh all through this winter due to the ongoing standoff with China’s People’s Liberation Army along the Line of Actual Control. Aaj Tak has covered the ground report of LAC. Watch this episode for detailed information.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें