scorecardresearch
 

वारदात: आफत के सैलाब में बह गया सबकुछ

वारदात: आफत के सैलाब में बह गया सबकुछ

एक-एक कसबे को बसाने और संवारने में सदियां लग जाती हैं, लेकिन उजड़ने में सिर्फ चंद मिनट. आसमान से आई आफत चंद मिनट की होती है, लेकिन उस आफत से उबरने में बरसों लग जाते हैं. बादल की शक्ल में मानसून से लिपटकर आई बारिश और फिर सैलाब ने हाल ही में उत्तराखंड और हिमाचल के कई इलाकों में वो कहर बरपाया कि घर, खेत-खलिय़ान, बस, ट्रक गाड़ियां सब बह गईं. पर क्या ये आफत सचमुच आसमानी है? यह कहर वाकई आसामन से टूटा है?

Himachal Pradesh and Uttarakhand have been witnessing heavy to extremely heavy rains from the last 48 hours, triggering massive flooding across the region. The states even dealt with scores of landslides and mudslides. The sight has been dangerous as several vehicles were washed away.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें