scorecardresearch
 

देश को आजाद कराने के लिए महज 18 साल की उम्र में फांसी चढ़ गए खुदीराम बोस

आज हम वंदे मातरम में क्रांति के सबसे कम उम्र की वीर की कहानी सुनाएंगे. खुदीराम बोस ने महज 18 साल की उम्र में देश को आजाद कराने की ठानी और बड़े-बड़ों को पानी पिला दिया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें