scorecardresearch
 

स्पेशल रिपोर्ट : BHU से उठी आवाज बेटियां बचाएं या बेटियां पढ़ाएं

स्पेशल रिपोर्ट : BHU से उठी आवाज बेटियां बचाएं या बेटियां पढ़ाएं

बीएचयू की छात्राओं ने हक की आवाज उठाई थी. छेड़खानी की शिकायत की थी, शोहदों से सुरक्षा मांगी थी, सीसीटीवी लगाने की फरियाद की थी, लेकिन हक की आवाज उठाने के बदले में उन्हें मिलीं पुलिस की लाठियां. बीएचयू की बेटियों पर अत्याचार की आग अब पूरे देश में फैल चुकी है. सवाल फिर उठा है कि बेटी बचाएं या बेटी पढ़ाएं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें