scorecardresearch
 

ब्लास्ट: आखिर हर बार क्यों होता है ऐसा?

ब्लास्ट: आखिर हर बार क्यों होता है ऐसा?

हर बार ऐसा ही होता है. पुख्ता सुरक्षा के दावे किए जाते हैं, लेकिन हर बार हादसा हो जाता है. हर बार चीखें होती हैं आहें होती हैं. इस बार ये चीखें और आहें हैदराबाद के हिस्से आई हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें