scorecardresearch
 

संजय दत्त का दर्द छलका, कहा नहीं हूं खलनायक

अपने ऐक्शन से संयज दत्त ने रुपहले पर्दे के तेवर बदल कर रख दिये. लेकिन अपने इसी अंदाज़ को जब उन्होंने असल ज़िन्दगी में अपनाना चाहा तो हालात ने स्कैंडल की शक्ल ले ली. शायद संजू बाबा भूल गए कि रुपहले पर्दे पर कहानी के ताने बाने भले ही डायरेक्टर बुनता हो. असल ज़िन्दगी में क़ानून तय करता है गुनाह की कहानी का अंजाम और मुन्ना भाई जब तक ये समझ पाते क़ानून ने अपना फ़ैसला सुना दिया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें