scorecardresearch
 

Maharashtra Political crisis: शिवसेना पर कब्जे की असली लड़ाई शुरू, बागी खेमे को 37 विधायकों का समर्थन

Maharashtra Political crisis: शिवसेना पर कब्जे की असली लड़ाई शुरू, बागी खेमे को 37 विधायकों का समर्थन

महाराष्ट्र के महासंकट के बीच बागी मंत्री एकनाथ शिंदे ने शिव सेना के 37 विधायकों का आंकड़ा जुटा लिया है. 37 के जादुई आंकड़े का मतलब ये है कि 55 सदस्यों वाली पार्टी को तोड़ने के लिए कम से कम 37 विधायकों की जरुरत थी, जो उन्होंने पूरा कर लिया है. वैसे शिंदे ने पार्टी तोड़ने का कोई इरादा नहीं जताया है. शिंदे ने कल राज्यपाल और विधानसभा के डिप्टी स्पीकर 37 विधायकों के हस्ताक्षर वाली चिट्ठी भेजी है. ये चिट्ठी शिवसेना के लेटर हेड से भेजी गई है. चिट्ठी में कहा गया है कि गुवाहाटी में शिवसेना विधायक दल की बैठक में एकनाथ शिंदे को नेता चुना गया है. साथ ही भरत गोगावले को चीफ व्हिप नियुक्त करने की जानकारी भी दी गई है. चिट्ठी के मजमून से साफ है कि शिंदे अपने गुट को असली शिव सेना मान रहे हैँ. उनके खेमे में शिव सेना के 37 विधायकों के अलावा अन्य 9 विधायक भी हैं. इस तरह शिंदे कैम्प में 46 विधायक हो गए है.आज तीन और लोगों के शामिल होने की संभावना है. देखें वीडियो.

Maharashtra's game of thrones continued late into Thursday night. Now, Shiv Sena's rebel MLA Eknath Shinde seems to have raked in the support of two-thirds of the party's MLAs. Watch this video to know more.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें