scorecardresearch
 

मैं भाग्य हूं: भाग्य का कहना कभी ना टालें

मैं भाग्य हूं: भाग्य का कहना कभी ना टालें

मैं भाग्य हूं आपके कर्मों का परिणाम, आपके कर्म ही मेरा निर्माण करते हैं और तय करते हैं कि मैं आपका साथ कितना और कब तक दूंगा.  तो फिर जब आपके कर्म ही आपके भाग्य का निर्माण करते हैं तो फिर क्यों कुछ मनुष्य अपने कर्म से ही चूक जाते हैं, वो ये क्यों नहीं समझ पाते कि सतकर्म ही एक अच्छे जीवन का जरिया है. देखें- 'मैं भाग्य हूं' का ये पूरा वीडियो.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें