scorecardresearch
 

यूपी चुनाव के नतीजों से पहले सपा में बेचैनी!

यूपी के चुनाव नतीजों से पहले ही अखिलेश कैंप में बेचैनी दिखने लगी है. समाजवादी पार्टी के पुराने नेता रविदास महरोत्रा के मुताबिक, कांग्रेस से गठबंधन करने से सपा को कोई फायदा नहीं हुआ. तो वहीं आज़म खान का कहना है कि यूपी चुनाव में अगर समाजवादी पार्टी हारेगी, तो अखिलेश यादव दोषी नहीं होंगे. बता दें कि यूपी में गठबंधन के तहत समाजवादी पार्टी 288 और कांग्रेस 105 सीटों पर लड़ रही है.इस बीच सपा मुखिया अखिलेश यादव ने संकेत दिया है कि अगर चुनाव नतीजों के बाद जरूरत पड़ी, तो वह बीएसपी के साथ भी गठबंधन कर सकते हैं. हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि 11 मार्च का चुनावी नतीजा उनके पक्ष में आएगा. गठबंधन के सवाल पर अखिलेश ने पहली बार माना कि कांग्रेस और समाजवादी पार्टी को साथ लाने में राहुल और प्रियंका दोनों की भूमिका रही.बीबीसी की तरफ से जब अखिलेश से सवाल पूछा गया कि बहुमत न मिलने पर सपा की अगली रणनीति क्या होगी? इस सवाल पर अखिलेश यादव का कहना था, "अगर सरकार के लिए जरूरत पड़ेगी तो राष्ट्रपति शासन कोई नहीं चाहेगा. हम नहीं चाहते कि यूपी को बीजेपी रिमोट कंट्रोल से चलाए."

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें