scorecardresearch
 

राफेल के आते ही एक बार फिर से सियासत शुरू! देखें हल्ला बोल

राफेल के आते ही एक बार फिर से सियासत शुरू! देखें हल्ला बोल

राष्ट्र रक्षा के समान कोई पुण्य नहीं, राष्ट्र रक्षा के समान कोई व्रत नहीं, राष्ट्र रक्षा के समान कोई यज्ञ नहीं है. संस्कृत में ये बातें प्रधानमंत्री मोदी ने तब कहीं जब दुनिया का सबसे बेहतरीन लड़ाकू विमान राफेल भारतीय सैन्य ताकत का हिस्सा बन गया. दोपहर के करीब 3 बजे 5 राफेल विमानों ने अंबाला एयरबेस में एंट्री ली. लेकिन राफेल के आते ही एक बार फिर से सियासत शुरु हो गई.कांग्रेस ने सरकार से फिर वहीं पुराने सवाल दागे- कीमत क्यों नहीं बताते? देरी क्यों हई? मतलब 2019 में फेल, फिर भी राफेल-राफेल. देखें हल्ला बोल.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें