scorecardresearch
 

हल्‍ला बोल: एकजुटता में 'ना एक सुर', 'ना एक ताल'

मोदी के खिलाफ जिस महागठबंधन के दावे किए जा रहे थे. कैराना की जीत के बाद जिस एकता पर विपक्ष बल्ले-बल्ले कर रहा था. अब उसी में दरार की खबर है. केजरीवाल के मसले पर सारा विपक्ष एक तरफ है और कांग्रेस अलग. समाजवादी पार्टी और BSP कांग्रेस को जोर का झटका धीरे से देने की तैयारी में है. इस बीच बीजेपी के समर्थकों जेडीयू और शिवसेना भी केजरीवाल के समर्थन में बोल रही है. मतलब ये कि गठबंधन की तस्वीरों पर भीषण सस्पेंस है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें