scorecardresearch
 

हल्ला बोल: कांग्रेस के साथ... महबूबा, उमर का हाथ?

क्या अबकी बार कश्मीर पर बनेगी दिल्ली में सरकार? जिस तरीके से पिछले 2 दिनों से धारा 370 और AFSPA को लेकर सियासी घमासान शुरु हुआ है, वो यही बता रहा है कि चुनाव का एजेंडा अब इन्हीं मुद्दों पर केंद्रित हो गया है. खासकर आज महबूबा के उस बयान पर सियासत गर्म हो गई है जिसमें उन्होंने कहा कि अगर धारा 370 खत्म हुई तो 2020 तक जम्मू कश्मीर का विलय हिंदुस्तान से खत्म हो जाएगा. आजतक का चुनाव स्टूडियो आज पहुंच चुका है राजस्थान के उदयपुर में, जहां से हम ये जानने की कोशिश करेंगे कि लोकसभा चुनाव को लेकर क्या है उदयपुर का मिज़ाज?

Will the Government in Delhi be formed on Kashmir Agenda? Since two days, the politics over the Kashmir issue has heated up. Since when the announcement of scrapping Section 370 and AFSAP has taken place, the politics over the issue has accelerated. As if this was not enough, on Wednesday, Mehbooba Mufti made a controversial statement regarding the Kashmir issue. Mehbooba in her statement said that, if Section 370 has been removed from Kashmir, Kashmir will be no longer the part of India. Watch video.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें