scorecardresearch
 

Oxygen संकट से मौत पर पल्ला झाड़ने को क्यों आतुर हैं सरकारें? देखें हल्ला बोल

Oxygen संकट से मौत पर पल्ला झाड़ने को क्यों आतुर हैं सरकारें? देखें हल्ला बोल

केंद् सरकार कह रही है कि ऑक्सीजन से लेकर कोई मौत नहीं हुई. केंद्र के बयान से विपक्ष आगबबूला है. उधर, बीजेपी कह रही है कि राज्यों ने ऑक्सजीन की कमी से होने वाली मौत का आंकडा केंद्र को दिया ही नहीं. केंद्र सरकार का ये भी कहना है कि स्वास्थ्य राज्यों का विषय है, सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को मौतों की रिपोर्टिंग की विस्तृत गाइडलाइन केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी हुई हैं. इसी आधार पर, सभी राज्य और केंद्रशासित प्रदेश केसों और मौतों की जानकारी नियमित तौर पर स्वास्थ्य मंत्रालय को देती है. हालांकि किसी राज्य या केंद्रशासित प्रदेश ने ऑक्सीजन से कमी से कोई भी मौत रिपोर्ट नहीं की है. देखें वीडियो.

Politics heats up after the statement of government over the statement death due to oxygen. The government said that India didn’t witness a single death due to a lack of oxygen. RJD leader Manoj Jha said that center is managing coronavirus through data management. Reacting to this BJP leader Sambit Patra said that that health is a state subject, detailed guidelines for reporting deaths to all states and union territories have been issued by the Union Health Ministry. Watch video.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें