scorecardresearch
 

नंदगांव में लट्ठमार होली की उमंग

हुरियारों ज़रा बच के, ज़रा संभल के, ये होरी है हुरियारिनों की यानी गोपियों की. एक भी लाठी लग गई तो जीत जाएंगी बरसाने की ये गोपियां. होली आई नहीं कि हाथों में लाठी लिए बरसाने की हुरियारिनें टूट पड़ती हैं नंदगांव के हुरियारों पर और पुरुष हाथ में ढाल लेकर जैसे-तैसे खुद को बचाते हैं गोपियों की लाठियों से.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें