scorecardresearch
 

Bengal चुनाव में धर्म तय करेगा किसकी होगी सत्ता? देखें दंगल

Bengal चुनाव में धर्म तय करेगा किसकी होगी सत्ता? देखें दंगल

पांच राज्यों के चुनाव में आज सबसे बड़ा चुनावी दिन है, लेकिन हर बीतते चरण के साथ बंगाल का मुकाबला और तीखा होता जा रहा है. जहां एक ओर तीसरे चरण के लिए बंगाल में 31 सीटों पर मतदान हुआ है तो दूसरी ओर चौथे चरण के चुनाव प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक तरह से हिंदू कार्ड खेल दिया. प्रधानमंत्री मोदी ने कूचबिहार की रैली में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर मुसलमान वोट बैंक की पॉलिटिक्स करने का आरोप लगाया. लेकिन साथ ही कह दिया कि अगर बीजेपी ने कहा होता कि सारे हिंदू एक हो जाओ तो हमें चुनाव आयोग का नोटिस आ जाता. पीएम के मुताबिक ममता बनर्जी ने एक चुनावी रैली में कहा था कि सारे मुसलमान बीजेपी के खिलाफ एक हो जाओ. बंगाल चुनाव में पहले से हिंदू वोटों के ध्रुवीकरण की कोशिश का आरोप लग रहा है. बीजेपी जहां जय श्री राम के नारे को उछाल रही है, तो इस बार ममता ने भी खुद को ब्राह्मण बताने के साथ-साथ चंडी पाठ किया है, मंदिरों में दर्शन किए हैं. क्या बंगाल चुनाव में धर्म कांटा नतीजा तय करेगा? क्या जैसा कि पीएम ने आरोप लगाया है कि टीएमसी करे तो चुनाव लीला, बीजेपी करे तो कैरेक्टर ढीला है, कह सकते हैं? देखें दंगल.

While addressing the rally in Cooch Behar, PM Modi attacked Mamata over her appeal to Bengal's Muslim population not to divide their votes. PM Modi said that CM Mamata's appeal to Muslims to vote for TMC reflects fears that minority votes are slipping out of her hand. During her poll campaign over the past few days, Mamata has been making appeals that there should not be any split, particularly in minority votes. In this episode of Dangal, we will talk about that will religion centric appeal by the parties attract the voters?

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें