scorecardresearch
 

दंगल: कमल के मारे, अब कोरोना के सहारे!

मध्य प्रदेश में चल रहे सियासी संकट के बीच आज विधानसभा का सत्र शुरू तो हुआ लेकिन फिर कोरोना के नाम पर 26 मार्च तक स्थगित हो गया. विधायकों की बगावत से कमलनाथ सरकार संकट में है, इसलिए BJP इसे शक्ति परीक्षण से भागने का दांव कह रही है. पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान स्पीकर एनपी प्रजापति के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट चले गए हैं जहां कल सुनवाई होगी. इसलिए आज दंगल में हमारा मुद्दा है कि क्या कमल के मारे तो कोरोना के सहारे ? वैसे स्पीकर के फैसले को लेकर कल सुप्रीम कोर्ट क्या फैसला लेता है ये अहम होगा लेकिन उसके इतर सत्ता का दांव जमकर चला जा रहा है. BJP ने जहां राजभवन में अपने विधायकों की परेड कराई तो कांग्रेस की दलील है कि उसके विधायकों को बैंगलुरू में कैद करके रखा गया है. एमपी के इस संकट पर आज की बहस शुरू करें उससे पहले आज के घटनाक्रम पर ये रिपोर्ट देखिए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें