scorecardresearch
 

MP: क्लास में छात्राएं करने लगीं अजीबो-गरीब हरकत, स्कूल में भूत-प्रेत होने की अफवाह

अनूपपुर से स्कूल में 11वीं कक्षा की छात्राएं क्लास में अचानक से अजोबो-गरीब हरकत करने लगीं. पहले सभी छात्राएं रोने लगीं. फिर कोई पैर पटकने लगा तो कोई स्कूल की छत की ओर भाग गया. तुरंत स्वास्थ्य विभाग को इसकी सूचना दी गई जहां से उन्हें इलाज के लिए जिला अस्पताल ले जाया गया. गांव वालों और छात्राओं का कहना है कि स्कूल में भूत-प्रेत का वास है.

X
छात्राओं को जिला अस्पताल में करवाया गया भर्ती.
छात्राओं को जिला अस्पताल में करवाया गया भर्ती.

मध्य प्रदेश के अनूपपुर जिले में एक अजीबो-गरीब वाकया देखने को मिला. यहां पयारी गांव के स्कूल में क्लास में पढ़ाई के दौरान 5-6 छात्राएं अचानक से रोने लगीं. वे यहीं नहीं रुकी. कुछ छात्राएं फिर पांव पटकने लगीं तो कुछ चिल्लाते हुए स्कूल की छत की ओर भाग गईं. सभी छात्राएं 11वीं कक्षा में पढ़ती हैं.

छात्राओं की ऐसी हरकत देख टीचर और अन्य बच्चों के भी होश उड़ गए. तुरंत स्कूल मैनेजमेंट को सूचना दी गई. वे जब क्लासरूम पहुंचे तो छात्राओं की हरकत देखर वे भी दंग रह गए. फिर स्वास्थ्य विभाग को इसके बारे में बताया गया और छात्राओं के परिजनों को भी स्कूल आने के लिए कहा गया.

इस दौरान छात्राएं अजीबोगरीब हरकतें करती रहीं. स्वास्थ्य विभाग की टीम छात्राओं की अजीब हरकत देख उन्हें जिला अस्पताल लेकर पहुंची. वहां छात्राओं का इलाज शुरू किया गया.

'स्कूल के नए भवन में है भूत-प्रेत का साया'
उधर दूसरी तरफ, ग्रामीण और परिजनों का कहना है कि स्कूल में भूत-प्रेत का साया है. विद्यालय के कर्मचारियों का भी यही कहना है. उन्होंने बताया कि स्कूल में नया भवन बनाया गया है. इस भवन में अक्सर इस तरह की घटनाएं देखने को मिलती हैं. स्कूले में ग्रामीणों ने मैनेजमेंट की अनुमति से पूजा पाठ और झाड़-फूंक करा कर नारियल भी चढ़ाया है. लेकिन इस तरह की घटनाएं होती ही रहती हैं.

वहीं, छात्राओं का इलाज कर रहे डॉक्टर प्रवीण शर्मा का कहना है यह फंक्शनल डिसऑर्डर की वजह से छात्राओं के साथ ऐसा हुआ. किशोरियों में अक्सर यह डिसऑर्डर देखने को मिलता है. उन्होंने भूत-प्रेत की बात को नकारते हुए कहा कि ऐसा होना किशोरियों में आम बात है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें