scorecardresearch
 

शारीरिक संबंध को ही प्रेम का अवसर मानते हैं आज के युवा: बाबुषा

शारीरिक संबंध को ही प्रेम का अवसर मानते हैं आज के युवा: बाबुषा

साहित्य के सबसे बड़े महाकुंभ 'साहित्य आजतक 2019' का आज तीसरा और अंतिम दिन है. आज के समय में प्यार क्या है? इस सवाल पर साहित्य आजतक के सत्र ‘हमारे समय में प्यार’ में लेखिका-कवयित्री अनामिका और कवयित्री बाबुषा कोहली ने विस्तार से चर्चा की. अनामिका कहती हैं कि आज के युवा एडहॉक की मुहब्बत करते हैं. वहीं अनामिका ने कहा कि आज की युवा पीढ़ी शारीरिक संबंध को ही प्रेम का अवसर मानती है. इस दौरान राजकमल द्वारा प्रकाशित अनामिका के काव्य-संकलन 'आईनासाज' और बाबुषा कोहली की पुस्तक '52 चिट्ठियां' का लोकार्पण किया गया. वीडियो देखें.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें