scorecardresearch
 

सिगरेट नहीं पीने के बावजूद आपको हो सकती हैं ये स्वास्थ्य समस्याएं

जो महिलाएं पैसिव स्मोकर  हैं, उनमें मेनाेपोज के जल्दी आने और बांझपन की समस्या हो सकती है. हालांकि जो महिलाएं धूम्रपान करती हैं उनमें मेनोपोज तय वक्त से एक से दो साल पहले ही आ जाता है.

पैसिव स्मोकिंग के अनदेखे नुकसान पैसिव स्मोकिंग के अनदेखे नुकसान

हाल ही में हुए एक अध्ययन में कहा गया है कि ऐसे लोग जो भले ही सिगरेट न पीते हों पर सिगरेट पीने वालों के साथ उठते-बैठते हैं, उन्हें कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं से जूझना पड़ता है.

खासतौर पर महिलाओं के संदर्भ कहा गया है कि जो महिलाएं पैसिव स्मोकर हैं, उन्हें मेनाेपोज के जल्दी आने और बांझपन की समस्या हो सकती है. हालांकि जो महिलाएं धूम्रपान करती हैं उनमें मेनोपोज एक से दो साल पहले ही आ जाता है. पर चौंकाने वाली बात ये है कि सिगरेट पीने वाले लोगों के संपर्क में रहने वाली महिलाओं में भी इस बात का खतरा होता है.

महिलाओं के स्वास्थ्य और धूम्रपान के बीच संबंध का अध्ययन करने वाले शोधकर्ताओं का कहना है कि महिलाओं को हर प्रकार के नशे से दूर रहने की कोशिश करनी चाहिए. किसी भी प्रकार का नशा उनके लिए खतरनाक साबित हो सकता है.

पैसिव स्मोकर होने पर कौन से खतरों से जूझना पड़ता है. तंबाकू में मौजूद विषाक्त पदार्थ प्रजनन क्षमता पर सीधा असर डालती हैं. इसके अलावा ये हॉर्मोन्स को भी असंतुलित कर देता है. इस अध्ययन के मुताबिक, महिलाओं के नशा करने से उनकी प्रजनन क्षमता पर असर पड़ता है. इसका बुरा असर उनके बच्चे पर भी पड़ता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें