scorecardresearch
 
पर्यटन

मुगल गार्डन की छटा है निराली | पढ़ें

मुगल गार्डन की छटा है निराली | पढ़ें
  • 1/17
खूबसूरत फूलों, दुर्लभ प्रजाति के पेड पौधों और जड़ी बूटियों के लिये मशहूर राष्ट्रपति भवन का मुगल गार्डन मंगलवार से जनता के लिये खुल जायेगा और इसके साथ ही एक माह तक चलने वाले राष्ट्रपति भवन उद्यानोत्सव की शुरूआत होगी.
मुगल गार्डन की छटा है निराली | पढ़ें
  • 2/17
विभिन्न प्रजाति के गुलाब, ट्यूलिप और लिलि आदि रंग बिरंगे मोहक फूलों वाले इस ऐतिहासिक बगीचे को मंगलवार से जनता के लिये खोले जाने से पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल ने सोमवार को यहां की गयी व्यवस्था का निरीक्षण किया.
मुगल गार्डन की छटा है निराली | पढ़ें
  • 3/17
इस बार से एक माह तक मुगल गार्डन जनता के लिये खुले रहने की अवधि को राष्ट्रपति भवन उद्यानोत्सव का नाम दिया गया है.
मुगल गार्डन की छटा है निराली | पढ़ें
  • 4/17
इस साल इन सबके अलावा एक दुकान भी है जहां की रिंग, टाई, टोपी और टी शर्ट जैसे विभिन्न स्मारक बिक्री के लिये रखे गये हैं जिन्हें दर्शक चाहें तो खरीद कर अपने साथ ले जा सकते हैं.
मुगल गार्डन की छटा है निराली | पढ़ें
  • 5/17
मुगल गार्डन सोमवार को छोड़कर प्रत्येक दिन सुबह दस बजे से लेकर शाम के पांच बजे तक जनता के लिये खुला रहेगा. शाम चार बजे के बाद यहां किसी को भी प्रवेश की इजाजत नहीं होगी.
मुगल गार्डन की छटा है निराली | पढ़ें
  • 6/17
सुरक्षा कारणों को ध्यान में रखते हुये दर्शकों को पानी की बोतल, सूटकेस, हैंडबैग, पर्स, छाता, कैमरा, रेडियो, मोबाइल फोन, हथियार और अन्य उपकरणों को अपने साथ ले जाने की इजाजत नहीं होगी.
मुगल गार्डन की छटा है निराली | पढ़ें
  • 7/17
इस गार्डन में चिकित्सकीय और आयुर्वेदिक पौधों से भरा एक हिस्सा है और साथ ही बायोडायवर्सिटी पार्क भी हैं.
मुगल गार्डन की छटा है निराली | पढ़ें
  • 8/17
राजधानी दिल्ली में राष्ट्रपति भवन के पीछे के भाग में स्थित मुगल उद्यान अपने किस्म का अकेला ऐसा उद्यान है, जहां विश्वभर के रंग-बिरंगे फूलों की छटा देखने को मिलती है.
मुगल गार्डन की छटा है निराली | पढ़ें
  • 9/17
भारत के प्रथम राष्ट्रपति डॉ.राजेंद्र प्रसाद ने इस उद्यान को जन साधारण के दर्शन हेतु खुलवाया था. इस उद्यान को देखने वालों की संख्या प्रतिवर्ष बढ़ती जा रही है.
मुगल गार्डन की छटा है निराली | पढ़ें
  • 10/17
इसकी अभिकल्पना ब्रिटिश वास्तुकार सर एडविन लुटियंस ने लेडी हार्डिग के आदेश पर की थी.
मुगल गार्डन की छटा है निराली | पढ़ें
  • 11/17
13 एकड़ में फैले इस उद्यान में ब्रिटिश शैली के संग-संग औपचारिक मुगल शैली का मिश्रण दिखाई देता है.
मुगल गार्डन की छटा है निराली | पढ़ें
  • 12/17
यह उद्यान चार भागों में बंटा हुआ है, और चारों एक दूसरे से भिन्न एवं अनुपम हैं. यहां कई छोटे-बड़े बगीचे हैं जैसे पर्ल गार्डन, बटरफ्लाई गार्डन और सकरुलर गार्डन, आदि.
मुगल गार्डन की छटा है निराली | पढ़ें
  • 13/17
मुगल उद्यान में अनेक प्रकार के फूल देखे जा सकते हैं जिसमें गुलाब, गेंदा, स्वीट विलियम आदि शामिल हैं.
मुगल गार्डन की छटा है निराली | पढ़ें
  • 14/17
भारत के प्रथम राष्ट्रपति डॉ.राजेंद्र प्रसाद ने इस उद्यान को जन साधारण के दर्शन हेतु खुलवाया था. इस उद्यान को देखने वालों की संख्या प्रतिवर्ष बढ़ती जा रही है.
मुगल गार्डन की छटा है निराली | पढ़ें
  • 15/17
13 एकड़ में फैले इस उद्यान में ब्रिटिश शैली के संग-संग औपचारिक मुगल शैली का मिश्रण दिखाई देता है.
मुगल गार्डन की छटा है निराली | पढ़ें
  • 16/17
यह उद्यान चार भागों में बंटा हुआ है, और चारों एक दूसरे से भिन्न एवं अनुपम हैं. यहां कई छोटे-बड़े बगीचे हैं जैसे पर्ल गार्डन, बटरफ्लाई गार्डन और सकरुलर गार्डन, आदि.
मुगल गार्डन की छटा है निराली | पढ़ें
  • 17/17
इस बाग में फूलों के साथ-साथ जड़ी-बूटियां और औषधियां भी उगाई जाती हैं. इनके लिये एक अलग भाग बना हुआ है, जिसे औषधि उद्यान कहते हैं.