scorecardresearch
 

आनंद में बाधा नहीं बनेगी महिलाओं की उम्र

मेनोपॉज के बाद अमूमन महिलाओं के लिए सेक्स करना तकलीफदेह हो जाता है. अधिक उम्र की महिलाओं के लिए यौनांग पर लगाने वाला एक ऐसा जेल विकसित किया गया है, जिसके इस्तेमाल से वे सेक्स में पहले जैसी संतुष्टि हासिल कर सकती हैं. 14 दिनों तक किए गए एक शोध में 40 से 75 वर्ष की महिलाओं को शामिल किया गया था.

X
Symbolic Image
Symbolic Image

मेनोपॉज के बाद अमूमन महिलाओं के लिए सेक्स करना तकलीफदेह हो जाता है. अधिक उम्र की महिलाओं के लिए यौनांग पर लगाने वाला एक ऐसा जेल विकसित किया गया है, जिसके इस्तेमाल से वे सेक्स में पहले जैसी संतुष्टि हासिल कर सकती हैं. 14 दिनों तक किए गए एक शोध में 40 से 75 वर्ष की महिलाओं को शामिल किया गया था.

शोध में पाया गया कि सीधे यौनांग के जरिए इस्तेमाल में लाया गया सॉफ्टजेल जैसा 'टीएक्स-004एचआर' नाम के दवा की वजह से 63 फीसदी महिलाओं में यौनक्रिया को लेकर संतुष्टि में वृद्धि हुई, जबकि बिना दवा वाले जेल का इस्तेमाल करने वाली 48 फीसदी महिलाओं में इस तरह का कोई परिवर्तन नहीं देखा गया.

वैज्ञानिकों के अनुसार, ऐसी महिलाएं जिन्हें पीरियड आना बंद हो चुका हो तथा जिन्हें सेक्स के दौरान दर्द होता हो या यौनांग से जुड़ी समस्या हो उनके लिए शरीर में सेक्स हार्मोन 'एस्ट्रोजेन' बढ़ाना वाला यह उपचार जीवन में संतुष्टि प्रदान करने वाला साबित हो सकता है.

अमेरिका के क्लीवलैंड में स्थित यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल्स (यूएच) के केस मेडिकल सेंटर में कार्यरत शेरिल किंग्सबर्ग ने कहा, 'मेनोपॉज के बाद अमूमन महिलाओं को जलन की समस्या होती है, लेकिन एस्ट्रोजेन की कमी के कारण दर्द और सेक्स के दौरान असहज महसूस करना जैसी अन्य समस्याएं भी होती हैं.' किंग्सबर्ग ने कहा, 'बात जब महिलाओं के लिए सेक्स की हो तो उनके पास विकल्प का होना बेहद अहम है तथा टीएक्स-004एचआर वैगीकैप को यदि एफडीए मान्यता दे देता है तो यह महिलाओं में मेनोपॉज के बाद होने वाली समस्याओं के लिए नया उपचार साबित हो सकता है.'

टेक्सास के ऑस्टीन में हाल ही में हुए इंटरनेशनल सोसायटी ऑफ वूमंस सेक्सुअल हेल्थ (आईएसएसडब्ल्यूएसएच) की वार्षिक बैठक में यह रिसर्च प्रस्तुत किया गया.

IANS से इनपुट

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें