scorecardresearch
 

5 बातें जो रिश्ते को रखेंगी पहले वैलेंटाइन की डेट जैसा

किसी का सच्‍चा साथ हर गम को खुशी में बदलने के लिए काफी होता है. इसलिए अपने रिश्‍ते को बेकार की बातों से बचाकर रखें. छोटी-छोटी बातों को तूल देने की बजाय इनको खुशमिजाजी से सुलझाएं.

छोटी बातों को कभी बड़े मुद्दे न बनाएं छोटी बातों को कभी बड़े मुद्दे न बनाएं

रिश्तों को संभलना इतना मुश्क‍िल भी नहीं है जितना कई बार हमें लगने लगता है. बस कुछ आदतों पर ध्यान देेने की जरूरत है और अगर पार्टनर नाराजगी में कुछ कह दे तो उन बातों को तूल देने से बचना होता है.

जरा-जरा सी बात पर रिश्‍ते टूट जाते हैं. कई बार तो प्‍यार से भरे रिश्‍तों में खामोशी आ जाना जहर घोल देता है. याद रखें कोई भी रिश्‍ता प्‍यार, विश्‍वास और कमिटमेंट मांगता है. रिश्‍तों में सबसे ज्‍यादा कड़वाहट समय के अभाव के कारण आने लगी है. किसी का सच्‍चा साथ हर गम को खुशी में बदलने के लिए काफी होता है. इसलिए अपने रिश्‍ते को बहुत संभाल कर रखें.

इस मामले में ये 5 बातें आपकी मदद कर सकती हैं :

1. पार्टनर के लिए टाइम निकालें
रिश्‍तों को लंबी उम्र देने के लिए उनके साथ अच्छा समय बिताना भी बहुत जरूरी होता है. अगर आप अपने पार्टनर को समय नहीं देंगे तो इससे कम्यूनिकेशन गैप होगा और आप दोनों के बीच खालीपन आने लगेगा. आगे जाकर यही खालीपन रिश्‍ता टूटने की वजह बन सकता है.
इसलिए अपने पार्टनर की पसंद-नापसंद, हॉबी और उसके करियर गोल्‍स के बारे में बात करना आपके बीच बातों का सिलसिला जारी रखने में मदद कर सकता है. कभी-कभी बिना बात के हंसी मजाक करना आपके रिश्‍ते को नीरस होने से बचा कर रखेगा.

2. बनाए रखें भरोसा
रिश्‍तों को मजबूती से जोड़ने का काम करता है आपसी विश्वास. अपने रिश्‍ते को ईमानदार बनाए रखने के लिए एक-दूसरे पर भरोसा करना सीखें और रिश्‍ते को बचाने के लिए कभी झूठ का सहारा न लें. झूठ शक के कीड़े को जन्‍म देता है और शक अच्‍छे से अच्‍छे रिश्‍ते को खराब करने के लिए काफी है.

3. न पालें उम्‍मीदों का टोकरा
जिंदगी और फिल्‍मों में बहुत अंतर होता है इस बात को अच्‍छी तरह से अपने दिमाग में उतार लें. अपने साथी की तुलना अपने किसी भी करीबी रिश्‍तेदार या फिर सहेली के पति से न करें. सब का स्‍वभाव अलग होता है, इस बात को समझें. खुद भी फ्री होकर जीएं और उन्‍हें भी उनकी पसंद से जीनें दें. अगर आप पार्टनर को अपने हिसाब से बांधने की कोश‍िश करेंगे तो कुछ समय में आपसे कतराने लगेगा.

4. नेगेटिव बातों से बचें
किसी के भी सामने अपनी पर्सनल बातें न करें और न ही अपने पार्टनर का मजाक उड़ाएं. हर समय अपने पार्टनर को जज करना भी छोड़ दें. ऐसा करने से हर वक्‍त आपके बीच तनाव बना रहेगा और धीरे-धीरे आप दोनों के बीच नफरत जन्‍म ले सकती है. आपस की बातों मिलकर सुलझाने का प्रयास करें और कभी भी किसी तीसरे से सलाह लेने से बचें.

5. संयम से काम लें
हर रिश्‍ते में लड़ाई-झगड़े होते हैं. इसका यह मतलब नहीं है कि आप चीख-चिल्‍लाकर बात करें. जब भी बहस हो तो खुद पर संयम रखें. कहते हैं कि जब भी लड़ाई हो तो एक इंसान का चुप हो जाना ही अच्‍छा होता है. इसलिए जब भी ऐसा हो, बात की गहराई को समझते हुए ही कोई फैसला लें.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×