scorecardresearch
 
लाइफस्टाइल

चीनी खा रहे जिंदा चूहा इसलिए फैला कोरोना वायरस, नेता का दावा

चीनी खा रहे जिंदा चूहा इसलिए फैला कोरोना वायरस, नेता का दावा
  • 1/8
चीन में कोरोना वायरस पर दिए अपने एक विवादास्पद बयान को लेकर इटली के एक नेता ने माफी मांगी है. इटली के प्रांत वेनेटो के गवर्नर लुका जाइया ने एक टीवी चैनल के माध्यम से कोरोना वायरस के लिए चीन की संस्कृति को जिम्मेदार ठहराया था. उन्होंने लोगों के खान-पान की आदतों में दोष निकालते हुए कहा था कि ये लोग जिंदा चूहा तक खा जाते हैं.
चीनी खा रहे जिंदा चूहा इसलिए फैला कोरोना वायरस, नेता का दावा
  • 2/8
जाइया ने एक लोकल टीवी चैनल के माध्यम से कहा था, 'वेनेटा और इटली के लोग काफी साफ-सुथरे होते हैं. नहाना और अच्छे से हाथ धोने का यह प्रशिक्षण हमें अपनी संस्कृति से ही मिला है.'
चीनी खा रहे जिंदा चूहा इसलिए फैला कोरोना वायरस, नेता का दावा
  • 3/8
जाइया ने चीन की संस्कृति में दोष निकालते हुए कहा था, 'यह चीन की संस्कृति की वो सच्चाई है जिसे आज पूरा देश कोरोना वायरस के रूप में भुगत रहा है. हमने खुद उन लोगों को जिंदा चूहे खाते हुए देखा है.'
चीनी खा रहे जिंदा चूहा इसलिए फैला कोरोना वायरस, नेता का दावा
  • 4/8
हालांकि चीनी लोग कई तरह के असामान्य चीजें खाने के लिए जाने जाते हैं जिसमें कुत्ता भी शामिल हैं, यह टिप्पणी रोम स्थित चीनी दूतावास को चुभ गई.
चीनी खा रहे जिंदा चूहा इसलिए फैला कोरोना वायरस, नेता का दावा
  • 5/8
चीन दूतावास ने इसका जवाब देते हुए एक फेसबुक पोस्ट में लिखा, 'चीन और इटली इस महामारी से निपटने के लिए आज साथ-साथ खड़े हैं और एक नेता इसके लिए चीन के लोगों को ही बदनाम कर रहे हैं. यह एक गंभीर हमला है जो हमें स्तब्ध कर देता है.'
चीनी खा रहे जिंदा चूहा इसलिए फैला कोरोना वायरस, नेता का दावा
  • 6/8
बता दें कि इटली के नॉर्थ-ईस्टर्न प्रांत वेनेटो में कोरोना वायरस का भयंकर असर देखने को मिला है. पूरे देश में अब तक करीब 1576 लोग कोरोना वायरस की चपेट में आ चुके हैं. इस वायरस के चलते यहां अब तक 34 लोगों की मौत हुई है.
चीनी खा रहे जिंदा चूहा इसलिए फैला कोरोना वायरस, नेता का दावा
  • 7/8
कुल मिलाकर देखा जाए तो चीन के बाद हांगकांग, मकाऊ और साउथ कोरिया के बाद इटली पांचवां ऐसा देश है जहां कोरोना वायरस का प्रकोप सबसे ज्यादा पड़ा है.
चीनी खा रहे जिंदा चूहा इसलिए फैला कोरोना वायरस, नेता का दावा
  • 8/8
चीनी दूतावास की ओर से बयान जारी होने के बाद जाइया ने अपने शब्द वापस लेते हुए माफी मांगी है. जाइया ने कहा, 'अगर मेरे शब्दों से किसी व्यक्ति को ठेस पहुंची हो तो इसके लिए माफी मांगता हूं. मैं यह कहना चाहता था कि जब खाद्य स्वास्थ्य और सुरक्षा की बात आती है तो हर देश उसे अपने तरीके से कंट्रोल करने की कोशिश करता है.'