scorecardresearch
 

Weight loss mistakes: चावल ना खाने से शरीर पर पड़ता है ऐसा असर, वजन घटाने के चक्कर में ना करिए गलती

Rice in Weight Loss: आमतौर पर लोगों को लगता है कि चावल मोटापा बढ़ाने का काम करता है इसलिए प्लेट से इसे पूरी तरह हटा देना ही सही है. पर क्या चावल वाकई मोटापा बढ़ाता है? सेलिब्रिटी न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता दिवेकर (Rujuta Diwekar) ऐसा नहीं सोचतीं है. हाल ही में एक इंस्टाग्राम पोस्ट के जरिए उन्होंने चावल से जुड़े कुछ रोचक तथ्य शेयर किए हैं.

चावल में कई तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं. चावल में कई तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पोषक तत्वों से भरपूर है चावल
  • न्यूट्रिशनिस्ट से जानें चावल के फायदे
  • पेट से लेकर बालों तक फायदेमंद

वजन कम करने के लिए लोग खानपान में तरह-तरह के बदलाव करते हैं. इसके लिए सबसे पहले लोग चावल छोड़ देते हैं. आमतौर पर लोगों को लगता है कि चावल मोटापा बढ़ाने का काम करता है इसलिए प्लेट से इसे पूरी तरह हटा देना ही सही है. पर क्या चावल वाकई मोटापा बढ़ाता है? सेलिब्रिटी न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता दिवेकर (Rujuta Diwekar) ऐसा नहीं सोचती हैं. हाल ही में एक इंस्टाग्राम पोस्ट के जरिए उन्होंने चावल से जुड़े कुछ रोचक तथ्य शेयर किए हैं.

 

चावल खाने के फायदे (Benefits of Rice)- दरअसल चावल ना खाने से शरीर में कई जरूरी पोषक तत्वों की कमी हो जाती है और जल्दी बीमार होने की संभावना बढ़ जाती है. रुजुता के अनुसार, चावल कई तरह के पोषक तत्वों (Rice benefits) से भरा हुआ है. उन्होंने चावल के कई फायदे बताए हैं तो शरीर को अंदर से स्वस्थ बनाते हैं.  रुजुता का कहना है कि चावल एक प्रोबायोटिक है. ये ना सिर्फ आपका पेट भरता है बल्कि ये आंत में मौजूद अच्छे बैक्टीरिया को भी बढ़ाता है. चावल को दाल, या सब्जी के साथ खाने के अलावा, इसे पीसकर या फिर खीर बनाकर भी खा सकते हैं. 

जब आप दाल, दही, कढ़ी, फलियों, घी और मीट जैसी चीजें खाते हैं तो चावल आपके ब्लड शुगर को स्थिर रखने का काम करता है. ये आसानी से पच जाता है और इसे खाने से पेट भी हल्का रहता है. चावल खाने के बाद नींद अच्छी आती है और हार्मोंन का संतुलन बेहतर तरीके से बनता है. खासतौर से बढ़ते बच्चों और युवाओं को चावल जरूर खाना चाहिए.

चावल त्वचा के लिए भी बढ़िया होता है. ये प्रोलैक्टिन की वजह से बढ़े हुए रोमछिद्रों से छुटकारा दिलाता है. चावल खाने से बाल भी अच्छे और तेजी से बढ़ते हैं. रुजुता कहती हैं कि चावल का हर एक हिस्सा इस्तेमाल के लायक होता है. इससे निकला चोकर गाय-बैलों को खिलाया जाता है. जहां चावल की खेती होती है वहां ये दालों को उगाने के लिए भी मिट्टी में पर्याप्त नमी छोड़ देता है. उसके बाद ये मिट्टी प्राकृतिक नाइट्रोजन के रूप में काम करके मिट्टी को और अच्छा बना देती है. 

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें