scorecardresearch
 

आधी रात में जाना पड़ता है टॉयलेट? इस गंभीर बीमारी का हो सकता है संकेत

अमेरिका के नेशनल हेल्थ सर्विस (NHS) के मुताबिक रात में पेशाब लगना मूत्रमार्ग में बढ़ते ट्यूमर की वजह भी हो सकता है. ये प्रोस्टेट कैंसर के इलाज में इस्तेमाल होने वाले रेडिएशन के साइड इफेक्ट की वजह से भी हो सकता है. NHS की वेबसाइट के अनुसार, 'आमतौर पर प्रोस्टेट कैंसर के कोई भी लक्षण तब तक नहीं दिखाई देते हैं जब तक कि ये बढ़ा ना हो जाए और इसकी वजह से यूरीन वाली ट्यूब पर दबाव पड़ता है. दिन की तुलना में रात में बार-बार बाथरूम जाना प्रोस्टेट कैंसर के लक्षणों में शामिल है.

रात में बार-बार बाथरूम जाना प्रोस्टेट कैंसर के लक्षणों में शामिल है रात में बार-बार बाथरूम जाना प्रोस्टेट कैंसर के लक्षणों में शामिल है
स्टोरी हाइलाइट्स
  • आधी रात में टॉयलेट जाना गंभीर बीमारी का संकेत
  • प्रोस्टेट कैंसर का खतरा
  • लक्षणों को ना करें नजरअंदाज

कई लोगों को अक्सर आधी रात में बार-बार बाथरूम जाने की जरूरत पड़ती है. इस कंडीशन को नोक्टूरिया (Nocturia) भी कहते हैं जो एक गंभीर बीमारी का भी संकेत हो सकती है. हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार रात में बार-बार पेशाब आना प्रोस्टेट कैंसर (Prostate cancer) का एडवांस स्टेज हो सकता है और इसे बिल्कुल भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए.

नोक्टूरिया क्यों है खतरनाक- अमेरिका के नेशनल हेल्थ सर्विस (NHS) के मुताबिक, रात में बार-बार पेशाब आना मूत्रमार्ग में बढ़ते ट्यूमर की वजह भी हो सकता है. ऐसा प्रोस्टेट कैंसर के इलाज में इस्तेमाल होने वाले रेडिएशन के साइड इफेक्ट की वजह से भी हो सकता है.  NHS की वेबसाइट के अनुसार, 'आमतौर पर प्रोस्टेट कैंसर के कोई भी लक्षण तब तक नहीं दिखाई देते हैं जब तक कि ये बढ़ ना जाए और इसकी वजह से यूरिन वाली ट्यूब पर भी दबाव पड़ता है. दिन की तुलना में रात में बार-बार बाथरूम जाना प्रोस्टेट कैंसर के लक्षणों में शामिल है. 

क्या होता है प्रोस्टेट- प्रोस्टेट एक छोटी सी ग्रंथि होती है, जो केवल पुरुषों में होती है. यह पुरुषों के मूत्रमार्ग के पास होती है. मुख्यतौर पर प्रोस्टेट एक तरल पदार्थ का उत्पादन करता है जो स्पर्म के साथ मिलकर सीमेन को बनाता है. प्रजनन के लिए ये बहुत जरूरी होता है. हालांकि शरीर के सभी अंगों की तरह इसमें भी कैंसर हो सकता है. जब इसकी कोशिकाएं अनियंत्रित तरीके से बढ़ने लगती हैं. कई पुरुष इस कैंसर के साथ लंबे समय तक जीते हैं और इन्हें इसके लक्षण का एहसास भी नहीं होता है. वहीं कुछ लोगों में ये कैंसर फैल जाता है जो जानलेवा हो सकता है.

हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार, प्रोस्टेट कैंसर की चपेट में आने वाले पुरुषों की संख्या पिछले कुछ सालों से लगातार बढ़ रही है. चिंता की बात ये है कि ज्यादातर पुरुषों को इस बीमारी के बारे में पता ही नहीं है. 60 फीसद से ज्यादा पुरुष इसके लक्षणों और संकेतों को समझ नहीं पाते हैं. वहीं कुछ पुरुष झिझक की वजह से इस बीमारी पर खुलकर बात करने से बचते हैं. डॉक्टर्स का कहना है पुरुषों को रात में बार-बार पेशाब लगने जैसे लक्षणों को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए. 

 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें