scorecardresearch
 

अगर बालों में है ये दिक्कत... तो हो जाएं अलर्ट, आपका कोलेस्ट्रॉल लेवल हो गया है हाई

शरीर में कोलेस्ट्रॉल का लेवल बढ़ने से दिल की बीमारियों और स्ट्रोक का खतरा काफी ज्यादा बढ़ जाता है. हाई कोलेस्ट्रॉल को इसलिए भी ज्यादा खतरनाक माना जाता है क्योंकि इसके शरीर में कोई भी लक्षण नजर नहीं आते, जिस वजह से इसे साइलेंट किलर भी कहा जाता है. 

X
बालों में हो रही है ये दिक्कत तो समझ लें कोलेस्ट्रॉल लेवल हो गया है हाई बालों में हो रही है ये दिक्कत तो समझ लें कोलेस्ट्रॉल लेवल हो गया है हाई

कोलेस्ट्रॉल हमारी कोशिकाओं में मौजूद एक मोम जैसा पदार्थ होता है. स्वस्थ कोशिकाओं के निर्माण के लिए कोलेस्ट्रॉल काफी जरूरी माना जाता है. कोलेस्ट्रॉल की मदद से शरीर की कोशिकाएं और अंग सही तरीके से काम करते हैं. इसके अलावा कोलेस्ट्रॉल  हार्मोन, विटामिन और पाचन के लिए जरूरी फ्लूइड के उत्पादन में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. लेकिन शरीर में कोलेस्ट्रॉल का लेवल हाई होने से कई तरह की दिक्कतों का भी सामना करना पड़ सकता है. कोलेस्ट्रॉल का लेवल हाई होने के कारण आर्टरीज में फैट जमने लगता है. धीरे-धीरे इस फैट के बढ़ने से आर्टरीज में ब्लड का फ्लो काफी मुश्किल हो जाता है. जिस कारण हार्ट डिजीज और स्ट्रोक जैसी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है. 

शरीर में कोलेस्ट्रॉल का लेवल बढ़ने के कोई संकेत नजर नहीं आते जिस कारण इसे साइलेंट किलर भी कहा जाता है. ऐसे में जरूरी है कि अगर आपको अपने शरीर में कुछ भी अलग महसूस हो रहा है तो आप उन संकेतों को इग्नोर करने की भूल ना करें. 

बालों में होने वाला बदलाव भी शरीर में कोलेस्ट्रॉल का लेवल बढ़ने का संकेत देता है. तो आइए जानते हैं बालों में दिखने वाले हाई कोलेस्ट्रॉल के संकेतों के बारे में- 


बालों में दिखते हैं हाई कोलेस्ट्रॉल के ये संकेत- 

जॉन हॉपकिंस के रिसर्चर्स ने चूहों पर एक रिसर्च की जिसमें पाया गया कि हाई कोलेस्ट्रॉल वाली डाइट लेने से बालों पर इसका काफी बुरा असर पड़ता है.  नेचर जर्नल साइंटिफिक रिपोर्ट्स में प्रकाशित इस रिसर्च में चेतावनी दी गई है कि बहुत ज्यादा कोलेस्ट्रॉल बालों के झड़ने और सफेद होने का कारण बन सकता है. 

इसके अलावा रिसर्चर्स ने चूहों के एक ग्रुप पर एथेरोस्क्लेरोसिस कंडीशन की भी जांच की. यह एक ऐसी स्थिति है जिसमें धमनियों के अंदर फैट जमा हो जाता है जिस कारण ब्लड फ्लो में काफी दिक्कत आती है. इसके लिए चूहों को दो ग्रुप्स में बांटा गया. इस रिसर्च के दौरान चूहों के एक ग्रुप को नार्मल डाइट दी गई जबकि दूसरे ग्रुप को हाई फैट और हाई कोलेस्ट्रॉल वाली डाइट दी गई. 

इस रिसर्च के दौरान टीम ने पाया कि चूहों के जिस ग्रुप को हाई फैट और हाई कोलेस्ट्रॉल वाली डाइट दी गई थी उन्हें भंयकर हेयर लॉस की समस्या का सामना करना पड़ रहा था. रिसर्च पूरी होने के बाद शोधकर्ताओं ने अंत में यह निष्कर्ष निकाला कि हाई कोलेस्ट्रॉल डाइट का बालों पर काफी बुरा असर पड़ता है. 

शोधकर्ताओं ने लिखा, 'हमारे निष्कर्ष बताते हैं कि वेस्टर्न डाइट से चूहों में बालों के झड़ने और सफेद होने के मामले देखे गए. ऐसे में हमारा मानना है इसी प्रक्रिया के चलते जब लोग हाई फैट और कोलेस्ट्रॉल वाली डाइट लेते हैं तो वह बाल झड़ने और सफेद होने की समस्या का अनुभव करते हैं. '

हाई कोलेस्ट्रॉल के खतरे

आर्टरीज में कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ने के कारण वह काफी पतली हो जाती है जिस कारण रक्त का प्रवाह काफी धीमे या ब्लॉक हो जाता है जिसके चलते हृदय संबंधित बीमारियों  जैसे  एंजाइना (चेस्ट पेन) और हार्ट अटैक का खतरा काफी बढ़ जाता है. 

इसके लक्षणों में शामिल हैं ये- 

छाती, हाथ या कंधे में दर्द या असहजता

चक्कर आना, हल्का सिरदर्द, थकान, मितली

सांस लेने में दिक्कत

इनसे बढ़ता है शरीर में कोलेस्ट्रॉल लेवल

अत्यधिक शराब का सेवन

स्मोकिंग

एक्सरसाइज ना करना

भरपूर नींद ना लेना

अत्यधिक स्ट्रेस

सैचुरेटेड फैट युक्त डाइट

हाई ट्रांस फैट युक्त डाइट

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें