scorecardresearch
 

दांतों की गंदगी का दिल की बीमारियों से कनेक्शन, दिन में 2 बार साफ करने वाले सुरक्षित

'यूरोपियन जर्नल ऑफ प्रीवेंटिव कार्डियोलॉजी' में प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक, दांतों की सफाई और एट्रियल फाइब्रिलेशन व हार्ट फेलियर के बीच संबंध देखा गया है. रिपोर्ट में दावा किया गया है कि हमारा शरीर बैक्टीरिया के लिए एक एंट्री प्वॉइंट होता है. इसलिए दांतों की सफाई बहुत जरूरी है.

X
रोजाना दांत साफ करने से नहीं होगी दिल की बीमारियां! नई स्टडी में हैरान करने वाला दावा (Photo: Getty Images) रोजाना दांत साफ करने से नहीं होगी दिल की बीमारियां! नई स्टडी में हैरान करने वाला दावा (Photo: Getty Images)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मुंह के रास्ते शरीर में जाते हैं खतरनाक बैक्टीरिया
  • दांतों की गंदगी का दिल की बीमारियों से कनेक्शन

डेंटल हाईजीन यानी दांतों की सफाई आपको न सिर्फ खराब दांत और मसूड़ों की बीमारियों से बचाती है, बल्कि ये आपकी दिल की सेहत के लिए भी फायदेमंद है और तमाम तरह की रेस्पिरेटरी डिसीज से भी बचाव करती है. एक नई स्टडी में इसे लेकर चौंकाने वाले दावे किए गए हैं.

'यूरोपियन जर्नल ऑफ प्रीवेंटिव कार्डियोलॉजी' में प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक, दांतों की सफाई और एट्रियल फाइब्रिलेशन व हार्ट फेलियर के बीच संबंध देखा गया है. रिपोर्ट में दावा किया गया है कि हमारा शरीर बैक्टीरिया के लिए एक एंट्री प्वॉइंट होता है. इससे अच्छे और बुरे दोनों तरह के बैक्टीरिया प्रवेश करते हैं, लेकिन कुछ बेहद जानलेवा इंफेक्शन का कारण बन सकते हैं.

अवाना हेल्थकेयर की सह संस्थापक डॉ. शिल्पी बहल के मुताबिक, 'आपकी ओरल हेल्थ कई तरह की बीमारियों का कारण बन सकती है. यहां तक कि आप एंडोकार्डाइटिस का भी शिकार हो सकते हैं. यह एक प्रकार का इंफेक्शन है जो आपके हार्ट चैंबर की इनर लाइनिंग में होता है. मुख मार्ग से शरीर में फैलने वाले बैक्टीरिया जब ब्लडस्ट्रीम के जरिए इंसान के हृदय तक पहुंच जाते हैं तब लोग एंडोकार्डाइटिस का शिकार होते हैं.'

एक्सपर्ट के मुताबिक, दांतों की सफाई में लापरवाही मसूड़ों से जुड़ी बीमारी और घातक पीरियोडोंटाइटिस का कारण बन सकती है. आगे चलकर यह बीमारी हार्ट डिसीज, रक्त धमनियों में दिक्कत और स्ट्रोक की समस्या को भी ट्रिगर कर सकती है. पीरियोडोंटाइटिस या खराब ओरल हेल्थ और प्रीमैच्योर बर्थ व लो बर्थ वेट के बीच भी संबंध देखा गया है.

ओरल हेल्थ का कैसे रखें ख्याल?
दिन में कम से कम दो बार टूथपेस्ट से ब्रश करें. दांतों के बीच रोजाना अच्छे से सफाई (फ्लॉस) करें. ब्रश या फ्लॉस के बाद अगर मुंह में फूड पार्टिकल्स रह गए हैं तो उनके लिए माउथवॉश का इस्तेमाल करें. हेल्दी डाइट का ख्याल रखें और ज्यादा शुगर वाले फूड या ड्रिंक्स लेने से बचें. हर तीन-चार महीने में अपना टूथब्रश बदलें. दांतो की सफाई और चेकअप के लिए डेंटिस्ट से नियमित जांच कराएं. तंबाकू या ऐसी किसी भी चीज का सेवन करने से बचें.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें