scorecardresearch
 
लाइफस्टाइल न्यूज़

Heat wave in monsoon: बारिश के मौसम में चल रही लू, बचने के लिए अपनाएं ये टिप्स

गर्मी1
  • 1/10

मॉनसून शुरू होते ही गर्मी से राहत और लू के थपेड़ों से निजात पाने की उम्मीद की जाती है, लेकिन इस बार जुलाई का महीना शुरू होने के बावजूद दिल्ली-एनसीआर समेत उत्तर भारत के कई हिस्सों में प्रचंड गर्मी पड़ रही है. मॉनसून की बरसात के बजाय उत्तर भारत में चिलचिलाती धूप और गर्म हवाएं चल रही हैं.

दिल्ली के अलावा राजस्थान, उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा सहित नॉर्थ इंडिया के कई राज्यों में रिकॉर्ड तोड़ गर्मी पड़ रही. इसके चलते कारण लोग बेहाल हैं. विशेषज्ञ लोगों को इस गर्मी में बाहर जाने से बचने की सलाह दे रहे हैं ताकि बारिश के उलट चलने वाली लू से बचा जा सके.   

लू के चलते लोगों का बाहर निकलना किसी खतरे से खाली नहीं होता है. लंबे समय तक गर्मी में रहने से शरीर में ऐंठन, थकावट, हीट स्ट्रोक, सिरदर्द, जकड़न, जुकाम, उल्टी आदि कई तरह की त्वचा संबंधी समस्याएं भी हो सकती हैं. लू से बचन के लिए कुछ उपाय अपनाने चाहिए.

(photo credit- pixabay)

गर्मी2
  • 2/10

गर्मी में अत्यधिक पसीना निकलने से शरीर में इलेक्ट्रोलाइट्स का प्राकृतिक नुकसान होता रहता है, जिससे डिहाइड्रेशन और इलेक्ट्रोलाइट्स का बैलेंस बिगड़ सकता है. लू से बचने के लिए खानपान के साथ-साथ स्वास्थ्य संबंधी कई सावधानियां बरतने की आवश्यकता होती है. लू से खुद को सुरक्षित रखने के लिए कारगर उपाय शामिल हैं, जिन्हें आप अपनी दैनिक लाइफस्टाइल में शामिल कर सकते हैं. आइए जानते हैं इनके बारे में....

(photo credit- pixabay)

सिरदर्द3
  • 3/10

खाली पेट बाहर न निकलें- गर्मी के दिनों में कभी भी खाली पेट घर से बाहर ना निकलें. इससे लू लगने के साथ-साथ चक्कर, सिरदर्द आदि की समस्याएं हो सकती हैं. घर से बाहर निकलने से पहले पानी या ठंडा शर्बत जरूर पीएं. 

छाछ4
  • 4/10

गर्मी के दिनों में छाछ या दही का सेवन किसी वरदान से कम नहीं माना जाता है. इसके सेवन से शरीर में ताजगी बनी रहती है और लू लगने का खतरा कम हो जाता है. इसी के साथ पाचन संबंधी, त्वचा संबंधी, चक्कर, सिरदर्द, हीट स्ट्रोक, डायरिया, उल्टी की समस्याओं से निजात मिलती है.

(photo credit- pixabay)

 

 नींबू पानी5
  • 5/10

गर्मी में बढ़े हुए तापमान की वजह से बार-बार पसीना आने से शरीर का इलेक्ट्रोलाइट्स बैलेंस बिगड़ सकता है. ऐसे में नमक-चीनी का घोल या ओआरएस का घोल बनाकर ले सकते हैं. प्रचंड गर्मी के प्रकोप से बचने के लिए बार-बार पानी पीते रहना सबसे कारगर उपायों में से एक है. दिन में दो से तीन बार नींबू पानी या शिंकजी बनाकर पीने से लू लगने का खतरा कम रहता है.

(Photo credit- pixabay)

सिर पर कपड़ा रखकर निकलें7
  • 6/10

बाहर निकलने से बचें- धूप में बाहर निकलने से बचना चाहिए. धूप में निकलते वक्त छाते का इस्तेमाल जरूर करें. सिर ढक कर धूप में निकलने से भी लू से बचा जा सकता है. चिलचिलाती धूप में पसीना आना तो लाजमी है. ऐसे में कॉटन के कपड़ों का चुनाक करना सबसे बेहतरीन ऑप्शन है. गर्मी में सिथेंटिक, पोलिस्टर कपड़े पहनने से बचना चाहिए.
 

हाइड्रेटेड फ्रूट्स6
  • 7/10

ये फल खाएंः लू से बचने के लिए हाइड्रेटेड फ्रूट्स का सेवन करना फायदेमंद होता है. इनमें तरबूज, स्ट्रॉबेरीज, खरबूजा, आड़ू, संतरा और खीरा शामिल हैं. इनका सेवन करने से आप हाइड्रेटेड भी रहेंगे और शरीर को भी ताजगी प्राप्त होगी. इसके अलावा, खस का शरबत भी शरीर को तरोताजा रखने में मददगार साबित होता है.

(Photo credit- pixabay)

धूप8
  • 8/10

गर्मी लगने पर डॉक्टर से मिलें-  गर्मी के दिनों में ज्यादातर बाहर रहने से लू लगने का या हीट स्ट्रोक की चपेट में आने का खतरा भी कई गुना बढ़ जाता है. इससे सिर में दर्द, थकान, सुस्ती, ऐंठन, उल्टी होना, पेट में दर्द, दस्त और चक्कर की समस्या हो सकती है. लू से पीड़ित व्यक्ति को ठंडे पानी से नहलाएं. ठंडे पानी का कपड़ा भिगोकर शरीर पर लपटने से लू में आराम मिलता है. मरीज को ओआरएस या नमक-चीनी का घोल बनाकर पिलाएं. अत्याधिक स्थिति बिगड़ने पर डॉक्टर की सलाह लें.

(Photo credit- pixabay)


 

तरल पदार्थों9
  • 9/10

इनसे बचें- गर्मी के दिनों में अधिक तरल पदार्थों का सेवन सेहत के लिहाज से बेहद नुकसानदायक होता है. गर्मी के दिनों में शराब, चाय, कॉफी आदि के सेवन से बचना चाहिए. इससे शरीर में पानी की कमी हो जाती है और शरीर का मेटाबॉलिज्म कम हो जाता है. तैलीय भोजन की जगह हल्का भोजन करें. इसके अलावा, लौकी, टिंडा, कद्दू, तोरई और हरी सब्जियों का सेवन करने से लू लगने का खतरा कम हो जाता है.

(Photo credit- pixabay)

लू10
  • 10/10

लू लगने पर बेल का शर्बत, नींबू पानी, आम पना या शिकंजी फायदेमंद माना जाता है. एक्सपर्ट के अनुसार, लू से बचने के लिए बाहर निकलते वक्त अपने साथ पानी की बोतल जरूर रखें. इसके अलावा, पानी में ग्लूकोज या नींबू मिलाकर भी पी सकते हैं. आयुर्वेद के मुताबिक, कच्चे आम के लेप से तलवों की मालिश करने से लू से बचा जा सकता है.

(photo credit- pixabay)