scorecardresearch
 
लाइफस्टाइल न्यूज़

माधुरी दीक्षित के पति डॉ. नेने ने बताया, सर्दियों की इस समस्या से कैसे निपटें

allergy
  • 1/6

सर्दियों का मौसम यूं तो बेहद सुहाना होता है लेकिन इस मौसम में एलर्जी की समस्या से कई लोग परेशान हो जाते हैं. एलर्जी के कारण बार-बार छींक आना, सर्दी होना और खुजली जैसी समस्याएं होती हैं. सर्दियों के मौसम में पेड़-पौधो के फूलों में परागण अधिक होता है. यही पराग कण सांस के माध्यम से हमारी नाक तक पहुंचते हैं और एलर्जी का कारण बनते हैं. अभिनेत्री माधुरी दीक्षित के पति डॉ. श्रीराम माधव नेने ने सीजनल एलर्जी पर अपने यूट्यूब चैनल पर विस्तार से जानकारी दी है.

allergy test
  • 2/6

एलर्जी से बचने के लिए क्या करें?- डॉ. नेने अपने यूट्यूब चैनल पर शेयर किए गए एक वीडियो में बताते हैं कि सीजनल एलर्जी से बचने के लिए हमें शरीर की सफाई के साथ-साथ आस-पास की सफाई का भी ध्यान रखना चाहिए. तकिए के कवर और बेडशीट को नियमित अंतराल पर बदलते रहें. एलर्जी होने की स्थिति में नाक की सफाई का विशेष ध्यान रखें. 

allergy symptoms
  • 3/6

नाक को साफ करने के लिए किसी बर्तन में पानी लेकर उसे नाक में डालें. इससे नाक के अंदर से एलर्जी पैदा करने वाले कण निकल जाएंगे. अगर आपको किसी खास फूल के परागकण से एलर्जी है तो उस फूल के पास जाने से बचें. सर्दियों में अगर आपको एलर्जी की समस्या होती है तो घर से बाहर निकलना कम कर दें.

Allergy reasons
  • 4/6

कब जाएं डॉक्टर के पास?- डॉ. नेने कहते हैं कि एलर्जी की स्थिति अगर ठीक न हो तो आपको तुरंत डॉक्टर के पास जाना चाहिए. डॉक्टर आपकी एलर्जी की पूरी हिस्ट्री जानने के बाद इलाज शुरू करेंगे. डॉक्टर एलर्जी के लिए ब्लड टेस्ट भी करते हैं.

skin allergy precautions
  • 5/6

स्किन एलर्जेन टेस्ट का सहारा लेकर डॉक्टर ये भी पता लगाते हैं कि व्यक्ति को किस खास चीज से एलर्जी है. इस टेस्ट में व्यक्ति के स्किन पर विभिन्न एलर्जेन को रखा जाता है. जिस एलर्जेन से त्वचा पर लाल चकते हो जाए या किसी तरह की प्रतिक्रिया हो, व्यक्ति को उस एलर्जेन से दूर रहने की सलाह दी जाती है.

 

skin infection treatment
  • 6/6

डॉ. नेने बताते हैं कि स्थिति अगर नियंत्रण में न हो तो डॉक्टर स्टेरॉयड की लो डोज लेने की सलाह देते हैं. डॉ. नेने इस बात पर जोर देते हैं कि एलर्जी की शुरूआत में ही स्टेरॉयड लेना शुरू नहीं करना चाहिए बल्कि जरूरत पड़ने पर डॉक्टर की सलाह से लो डोज की स्टेरॉयड लेनी चाहिए.